झारखंड सरकार  द्वारा संचालित आकांक्षा योजना के जरिये कक्षा ग्यारहवीं और बारहवीं के बच्चे अपने हायर सेकेण्ड्री की पढाई जारी रखते हुए मेडिकल और इंजीनियरिंग की निःशुल्क कोचिंग प्राप्त कर रहे हैं। 

आकांक्षा योजना के तहत इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए मुफ्त आवासीय कोचिंग, अध्ययन सामग्री और बच्चों के अनुकूल सीखने का माहौल प्रदान करने के लिए शुरू किया गया। झारखण्ड एकेडमिक काउंसिल ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए आकांक्षा आवासीय कोचिंग में प्रवेश और रांची स्थित आकांक्षा केंद्र में प्रवेश के लिए राज्य स्तरीय चयन परीक्षा आयोजित करता है।

रांची में उपलब्ध उत्कृष्ट फैकल्टी, जिला स्कूल, रांची स्थित भवन में आकांक्षा केंद्र में कोचिंग प्रदान किया जाता है। योजना के प्रारंभ में 40 छात्रों को इंजीनियरिंग बैच के लिए और 40 को मेडिकल के लिए चुना गया था, जिसे अब बढ़ा कर मेडिकल के लिए 75 और इंजीनियरिंग के लिए 100 कर दिया गया है। चयनित बच्चों को ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा की शिक्षा के साथ-साथ कोचिंग भी प्रदान की जाती है। छात्रों को केंद्र में प्रतिस्पर्धा का माहौल, मुफ्त पाठ्यपुस्तक, मुफ्त आवास, कंप्यूटर शिक्षा और सर्वश्रेष्ठ कोचिंग सुविधा और प्रत्येक छात्र को टैब प्रदान किया गया है।

*आकांक्षा योजना के तहत भविष्य की योजना*

योजना के तहत रातू स्थित डाइट परिसर में कक्षा आठवीं से दसवीं के 100 बच्चों को निःशुल्क आवासीय एनटीएसई एवं ओलिंपियाड की कोचिंग देने की योजना है। लॉ कॉलेज में नामांकन हेतु ग्यारहवीं के 50 और बारहवीं 50 के बच्चों को CLAT और एनडीए की कोचिंग देने की योजना है। इन सभी छात्रों को मुफ्त पाठ्यपुस्तक, मुफ्त आवास, कंप्यूटर शिक्षा और सर्वश्रेष्ठ कोचिंग सुविधा समेत अन्य सुविधा प्रदान की जायेगी।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read