*Image courtesy IPRD, Jharkhand

बाबा बैद्यनाथ राज्य को स्वावलंबी, समृद्धशाली और विकसित बनाने हेतु शक्ति प्रदान करें। इन्हीं कामनाओं के साथ महादेव पर जलार्पण कर श्रावणी मेला का शुभारंभ कर रहा हूं। देवघर के निवासियों यह आपके लिए अवसर है अपनी जिम्मेदारियों व भागीदारी के निर्वहन करने का प्रयास करें। क्योंकि राज्य सरकार का मानना है कि जन भागीदारी के बिना इतना बड़ा आयोजन कतई सफल नहीं होगा। सरकार आपके साथ है आइये कदम से कदम मिला कर चलें और अपने पुनीत कर्तव्य का पालन करें। बाबाधाम आने वाले सभी श्रद्धालुओं और कांवरियों का देवघर अपने भव्य स्वरूप के साथ उनके अभिनंदन को तैयार है। उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कही। श्री दास आज देवघर स्थित दुम्मा में श्रावणी मेला के शुभारंभ के अवसर पर बोल रहे थे। 
श्री रघुवर दास ने कहा देवघर देश समेत पूरे विश्व में सबसे प्रसिद्ध सांस्कृतिक केंद्र के रूप में उभर कर सामने आए इसके लिए लगातार कार्य किया जा रहा है।

देवघर बासुकीनाथ फोर लेन सड़क निर्माण की प्रक्रिया का प्रारम्भ जल्द
 

-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga

श्री रघुवर दास ने कहा कि देवघर बासुकीनाथ फोर लेन सड़क निर्माण की प्रक्रिया जल्द प्रारम्भ होगी। कांवरियों के लिये कांवरिया पथ और कयू कंप्लेक्स के निर्माण का कार्य दूसरे चरण में बरसात के बाद प्रारम्भ होगा। देवघर विश्व स्तर का शहर बनें इस दिशा में योजनाबद्ध तरीके से कार्य हो रहा है जल्द ही इसे मूर्त रूप दिया जाएगा। ताकि देश के अलावा विदेशों से भी पर्यटक और श्रद्धालु आएं। इससे राज्य की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ होगी और रोजगार का सृजन भी होगा। 
चारों धाम की स्थायी प्रतिकृति जल्द देवघर में

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिवलोक परिसर में चार धामों का जो स्वरूप दिया गया है उसे जल्द यहां मूर्त रूप दिया जाएगा, ताकि यहां आने वाले लोग चारों धाम का दर्शन सालों भर कर सकें। 

देवघर एयरपोर्ट विस्तारीकरण में विस्थापित लोगों के नागरिक सुविधा हेतु सरकार 10 करोड़ खर्च करेगी

श्री रघुवर दास ने कहा कि देवघर एयरपोर्ट विस्तारीकरण कार्य में विस्थापित परिवारों हेतु गृह निर्माण की आधारशिला रख मुझे हार्दिक प्रसन्नता हो रही है साथ ही उन लोगों के चेहरे पर मुस्कान देखने को मिला जिन्हें जमीन का पट्टा प्राप्त हुआ। विस्थापित सभी परिवारों को जमीन और नागरिक सुविधा प्रदान की जाएगी इस कार्य का शुभारंभ हो चुका है। नागरिक सुविधा प्रदान करने हेतु राज्य सरकार 10 करोड़ रुपये व्यय करेगी। विस्थापितों के बीच 392 करोड़ का वितरण सरकार कर चुकी है और 42 करोड़ रुपये विस्थापितों के बीच वितरित किया जाएगा। हर किसान और गरीब, गरिमा के साथ जीवन यापन करें इसका संकल्प राज्य सरकार ने लिया है। सरकार पहले पुनर्वास फिर विस्थापन की नीति पर कार्य कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिवलोक परिसर में जिस प्रकार स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने अपने उद्यमशीलता का परिचय दिया है उससे लगता है कि राज्य सरकार द्वारा उनके स्वावलंबन हेतु किये गए प्रयास सार्थक हो रहें हैं। अपने कार्य के प्रति जिम्मेवार ऐसी महिलाओं को राज्य सरकार और हुनरमंद बनाएगी। झारखण्ड में ग्रामोद्योग को बढ़ावा देने में इन महिलाओं का बड़ा योगदान है।

श्री रघुवर दास ने बताया कि श्रावण मास के हर सोमवार को वे श्रद्धालुओं और कांवरियों से रूबरू होंगे ताकि उनकी समस्याओं का निराकरण हो सके। शिव भक्त सोशल मीडीया यानि ट्विटर और फेसबुक के माध्यम से भी अपनी बातों को रख सकते हैं।  
श्री रघुवर दास ने कहा कि श्रावणी मेला के दौरान कमिश्नर से लेकर कर्मचारी तक अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन सेवा भाव और ईमानदारी से करें। क्योंकि थोड़ी सी लापरवाही राज्य की छवि को धूमिल कर देगी। सरकार किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेगी। राज्य का गौरव श्रावणी मेला विश्व स्तर पर अपनी मजबूत पहचान स्थापित करें ऐसा कार्य करें।

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने देवघर एयरपोर्ट विस्तारीकरण कार्य में विस्थापित कैलाश दास, धनेश्वर मांझी, प्रिया देवी, चांदनी देवी, कृष्णा मांझी, पुष्पा देवी, चैतू मांझी को सांकेतिक तौर पर जमीन का पट्टा सौंपा। साथ ही मिस झारखण्ड का खिताब पाने वाली अनुष्का आनंद को 1 लाख रुपये का चेक प्रदान किया। 

इस अवसर पर मंत्री श्री अमर कुमार बाउरी, मंत्री श्रीमती लुइस मरांडी, मंत्री श्री रणधीर सिंह, मंत्री श्री राज पलिवार, विधायक श्री राधाकृष्ण किशोर, देवघर विधायक श्री नारायण दास, विधायक श्री जानकी यादव, विधायक श्री बादल पत्रलेख, विधायक श्री जीतू चरण राम, पर्यटन सचिव श्री मनीष रंजन सहित भारी संख्या में कावरिया उपस्थित थे।

must read