अपने पाँच दिनों का मधुमेह प्रबंधन योग शिविर अनगड़ा प्रखण्ड के सामुदायिक भवन में  आज प्रारम्भ किया गया। 

योग प्रमुख स्वामी मुक्तरथ जो आरोग्य भारती के प्रान्त मधुमेह प्रबंधन प्रमुख हैं उन्होंने अपने टीम के साथ सैकड़ों ग्रामीण को बढ़ते मधुमेह के प्रति जागरूक किये और योग के जरिये मधुमेह को रोकने तथा रोगमुक्त होने के उपाय बताये। 

उन्होंने योग द्वारा आंतरिक आमाशय,पेट और आँतों के  सफाई की विधि, प्राणायाम द्वारा श्वसन मार्ग और मानसिक सुद्धिकरन की विधि तथा ध्यान के द्वारा तनावमुक्ति की विधि को बताये। अनगड़ा पंचायत के मुखिया मधुसूदन मुंडा,इस कार्यक्रम के सहयोगी शालिनी हॉस्पिटल के राणा विकाश,शिशिर भगत एवं उपमुखिया ने मुक्तरथ जी का स्वागत किया और योग महत्वों को समझते हुए योगाभ्यास कक्षा में शामिल हुए।

 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

मुखिया मधुसूदन मुंडा ने कहा कि योग बहुत शक्तिशाली विद्या है जो शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को काफी बढ़ा देता है। स्वामी मुक्तरथ ने कहा कि अब गाँव में भी मधुमेह का आगमन हो चुका है इसे सही दिनचर्या, नियमित योगाभ्यास, स्वच्छ प्रयावरण व्यवस्था पर ईमानदारी पूर्वक आगे बढ़ने से रोका जाना बिल्कुल सम्भव है।

must read