टूसू मेला समिति, लोवाडीह, सामलौंग के तत्वावधान में हाईटेंशन मैदान, लोवाडीह, नामकुम में विराट टुसु मेला  का आयोजन किया गया। झारखंड की राजधानी  रांची स्थित  हाईटेंसन मैदान में प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी विशाल टुसु मेला का आयोजन किया गया।
मेला का शुभारंभ टुसु की पूजा करके किया गया,  टुसु पूजा मेला समिति के पदाधिकारियों एंव सहयोगियों के द्वारा किया गया। इस मेला में झारखंड के विभिन्न दूर दराज ग्रामीण क्षेत्रों से लोग बड़े बड़े टुसु चौडल एवं नगाड़ा के साथ बड़े उत्साह के साथ शामिल हुए।

मौके पर तमाड के विधायक श्री विकास कुमार मुंडा, पूर्व सांसद श्री राम टहल चौधरी, पूर्व विधायक केशव महतो कमलेश, पूर्व विधायक अमित कुमार महतो, झारखंड अधिविध परिषद अध्यक्ष डॉ अनिल कुमार महतो, सलाहकार सद्स्य केंद्रीय पुस्तकालय डॉ राजाराम महतो, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष डॉ राकेश किरण महतो, रंधीर चौधरी, बैजनाथ महतो, झामुमो के वरिष्ठ नेता अंतु तिर्की, डॉ धनेश्वर महतो, प्रो वृंदावन महतो शामिल हुए एवं टुसु मेला मे टुसु की परंपरागत गीतों से थिरके।

इस मेले में मुख्य आकर्षण 200 फिट की टुसु थी, जिसे प्रथम पुरस्कार दिया गया एंव 180 फिट एंव 150 फिट के टुसूओ के अलावे अन्य छोटे-बड़े अनेक टुसु थे, सभी टुसु टीमो को भी मेला समिति की ओर से पुरस्कृत किया गया।
मौके पर तमाड़  विधायक विकास मुंडा कहा कि टुसु पर्व झारखंड की प्राचीन त्योहार है जिसे झारखंड के विभिन्न क्षेत्रों में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, पुरे पांचपरगना क्षेत्र में 1 माह तक लगने वाला सबसे बड़ा त्योहार है, अब यह त्योहार शहर तक पहुंच गया है इस कार्य के लिए मेला समिति के सभी सदस्यों को बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं देता हूं।

पूर्व सांसद रामटहल चौधरी ने कहा टुसु पर्ब झारखंड का बहुत बड़ा परब है, अपना संस्कृति और भाषा को बचाने के लिए आगे आने की आवश्यकता है। मेला को संबोधित करते हुए समिति के अध्यक्ष श्री शत्रुघ्न महतो एवं संरक्षक पितंबर महतो ने कहा टूसू पर्व हमारी विरासत है

मेला को सफल बनाने में टुसू मेला संचालन समिति के अध्यक्ष शत्रुघ्न महतो, संरक्षक पितांबर महतो हरदयाल महतो, अधिवक्ता विजय कुमार, सूर्यकांत महतो, भुवनेश्वर महतो, सुरेंद्र महतो, हेमंत कुमार महतो, राजकुमार महतो, अशोक कुमार महतो,  राजेश महतो, संतोष कुमार महतो सुरेन्द्र महतो, नन्दकिशोर महतो, सोसोधर महतो, आदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Jharkhand School of Exccellence 
--------------------------Advertisement--------------------------MGJSM Scholarship Scheme

must read