*Images by IPRD

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 15 सितंबर से 2 अक्टूबर 2018 तक पूरे देश में स्वच्छ भारत अभियान के तहत *स्वच्छता ही सेवा है* कार्यक्रम चलाया जाएगा. देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 15 सितंबर को प्रातः 9:30 बजे स्वच्छता ही सेवा है कार्यक्रम के तहत स्वच्छ भारत के निर्माण हेतु पूरे देश को आह्वान करेंगे. प्रधानमंत्री के उदबोधन के बाद एक घंटा सभी को किसी न किसी क्षेत्र में सफाई अभियान चलाना है. इस अभियान के तहत मुख्यमंत्री, मंत्री, सभी अधिकारी, सभी जनप्रतिनिधि सहित सभी प्रदेशवासी 15 सितंबर से 2 अक्टूबर 2018 तक प्रतिदिन एक घंटा स्वच्छता मिशन के उद्देश्य को पूरा करने हेतु साफ सफाई पर देंगे.  इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए अधिक से अधिक आम लोगों को जोड़ने की आवश्यकता है. समर्पित भाव से इस अभियान को चलाया जाए ताकि पूरे झारखंड में स्वच्छता के प्रति एक माहौल बन सके. उक्त बातें मुख्यमंत्री ने आज झारखंड मंत्रालय के द्वितीय तल स्थित सभागार में आयोजित स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 क्षेत्रीय कार्यशाला को संबोधित करते हुए कही.

*पूरे राज्य में सेवा दिवस*

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 17 सितंबर से 25 सितंबर 2018 तक पूरे राज्य में सेवा दिवस मनाया जाएगा. सेवा दिवस के अवसर पर राज्य के विभिन्न नगर निकाय के स्लम क्षेत्रों में मेडिकल कैंप लगाए जाएंगे। मेडिकल कैंप लगाकर  गरीब, असहाय एवं सामान्य लोगों का स्वास्थ्य जांच किया जाएगा। साथ ही, सभी क्षेत्रों में जनसंपर्क के LED वाहनों एवं स्थायी स्क्रीनों पर प्रधानमंत्री के जीवन पर बनी प्रेरक लघु *फिल्म चलो जीते हैं* भी प्रदर्शित की जाएगी. इस फिल्म से आम जनता के बीच में यह संदेश जाता है कि किस तरह एक गरीब परिवार का लड़का देश का प्रतिनिधित्व कर सकता है.

*प्रधानमंत्री 23 सितम्बर को भगवान बिरसा मुंडा की इस पावन धरती से आयुष्मान भारत की शुरुआत*

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 23 सितंबर 2018 को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी झारखण्ड आ रहे हैं. प्रधानमंत्री भगवान बिरसा मुंडा की इस पावन धरती से आयुष्मान भारत की शुरुआत करेंगे. आयुष्मान भारत पूरे देश में चलाया जाने वाली एक महत्वकांक्षी योजना है. आयुष्मान भारत के तहत झारखंड राज्य के चिन्हित 57 लाख परिवारों को 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा किया जाएगा. आयुष्मान भारत सफलतापूर्वक झारखंड में लागू हो सके इस हेतु सांसद, विधायक सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि एवं सामाजिक संगठन से जुड़े लोग अपने-अपने क्षेत्रों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.

*प्रधानमंत्री करेंगे रांची में कैंसर हॉस्पिटल एवं चाईबासा और कोडरमा में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास*

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आजादी के 67 वर्षों बाद भी स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो सुविधा लोगों को मिलनी चाहिए थी वह अभी तक नहीं मिल पाई थी. राज्य सरकार आम जनता को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधा  मुहैया करा सके इस हेतु प्रतिबद्धता के साथ प्रयास कर रही है।  प्रधानमंत्री कर कमलों से 23 सितंबर को रांची में कैंसर हॉस्पिटल एवं चाईबासा और कोडरमा में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास होगा.

-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga

*झारखंड भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक शक्तिशाली देश बनाने में निर्णायक भूमिका अदा करेगा।*

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आने वाले समय में झारखंड भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक शक्तिशाली देश बनाने में निर्णायक भूमिका अदा करेगा। विकास के साथ-साथ स्वस्थ झारखण्ड बनाना सरकार का लक्ष्य है. 80% बीमारी खुले में शौच  करने और गंदगी से होती है. शहर, गांव, टोला, मोहल्ले इत्यादि जगहों पर शौचालय का निर्माण हुआ है, इन  शौचालयों का शत प्रतिशत उपयोग हो यह हम सभी का जिम्मेदारी है। आम जनता को जागरूक करें और शौचालय का अधिक से अधिक उपयोग करें यह आवश्यक है।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 के क्षेत्रीय कार्यशाला में पुरस्कार पाने वाले राज्य के विभिन्न स्थानीय निकायों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि स्वच्छता के तहत हो रहे कार्यों में देश के राज्यों की श्रेणी में झारखंड का पहला स्थान है। स्वच्छता के क्षेत्र में आप सभी स्थानीय निकायों ने अच्छा कार्य किया है। इस कार्य के लिए उन्होंने सभी निर्वाचित जनप्रतिनिधि, पदाधिकारीगण एवं साफ सफाई कर्मचारी को साधुवाद दिया. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी के मेहनत का ही परिणाम है कि आज झारखंड विभिन्न क्षेत्रों में अच्छा कार्य कर रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के 67 वर्ष बीत जाने के बाद भी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का स्वच्छ भारत का सपना पूरा नहीं हो पाया था, इस सपने को साकार करने हेतु देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2 अक्टूबर 2014 में ही स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की थी। उन्होंने देशवासियों से *राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर स्वच्छ भारत उनके कदमों में समर्पित करना ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी.**

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 2 अक्टूबर 2018 तक झारखण्ड को खुले से शौच मुक्त करना ही सरकार का लक्ष्य है. इस हेतु सरकार प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। शौचालय का शत-प्रतिशत उपयोग हो इसके लिए पानी इत्यादि की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि डब्ल्यूएचओ  के एक सर्वेक्षण में यह पता चला है कि हर वर्ष गंदगी के कारण प्रति व्यक्ति 6500 रुपये का आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है. अगर हम वर्ष 2019 तक स्वच्छ झारखंड का निर्माण कर पाएंगे तो प्रति व्यक्ति 6500 रुपए की आर्थिक बचत होगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनशक्ति ही सबसे बड़ी शक्ति है. छोटे छोटे कार्यों से ही देश में बदलाव होता है। अतः जन मानस के सहयोग से ही स्वच्छ झारखण्ड का निर्माण हो सकेगा। आज संकल्प लेने का दिन है कि हम अपने स्थानीय निकाय को स्वच्छ रखने में अपनी महती भूमिका निभाएं। स्वच्छता के दृष्टिकोण से झारखण्ड इंदौर और चीन के शहरों के अनुरूप खड़ा हो सके. नगर निगम, नगर परिषद एवं स्थानीय निकाय की यह जिम्मेवारी है कि सड़क पर गंदगी नहीं रहनी चाहिए. कूड़ा कचरा लोग डस्टबिन में ही रखें. छोटे-छोटे कामों के प्रति समर्पण रखेंगे तब ही राज्य विकसित हो सकेगा। साफ सफाई के प्रति शंघाई, बीजिंग और हमारे देश में इंदौर जैसे शहर अपने आप को जैसे रख सकते हैं तो हम झारखंड वासी ऐसा क्यों नहीं कर सकते हैं? दृढ़ इच्छाशक्ति हो तो कोई ऐसा कार्य नहीं है जो पूरा नहीं हो सकता है। हम सबों को अपने अंदर की क्षमता को विकसित करने की आवश्यकता है तभी हम अपने राज्य को विभिन्न आयामों में अव्वल कर पाएंगे.

*रांची में 18 सितम्बर को नगर निगम के सभी सफाई कर्मियों और नगर निगम की टीम के साथ बैठक करेंगे* 

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आगामी 18 तारीख को नगर निगम के सभी सफाई कर्मियों और नगर परिषद की टीम के साथ बैठक आयोजित की जाएगी. स्वच्छता के प्रति पहले अपने अधिकारियों को जागरुक करने की आवश्यकता है. स्थानीय निकायों और महापौर की यह जिम्मेवारी है कि शहर को किस प्रकार से स्वच्छ रखा जाएगा. सफाई कर्मियों के प्रति दृष्टिकोण को बदलने की आवश्यकता है. सफाई कर्मियों को पूरा मान सम्मान दें. मुख्यमंत्री ने क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया के तहत स्वच्छता के क्षेत्र में *रि-सर्टिफाईड ओडीएफ*  वाले राज्य के 17 स्थानीय निकायों चास, चाईबासा,  फुसरो, चिरकुंडा, गिरिडीह , झुमरीतलैया, खूंटी, गोड्डा, गुमला, जमशेदपुर, जामताड़ा, लोहरदगा मानगो, मझिआंव, मेदनीनगर, बिश्रामपुर एवं पाकुड़ को सर्टिफिकेट देकर पुरस्कृत किया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय निकायों में भी आईटी का अधिक से अधिक प्रयोग करें. भ्रष्टाचार मुक्त स्थानीय निकाय बनाना सरकार का लक्ष्य है| आप सभी की मेहनत से ही झारखण्ड देश का सबसे समृद्ध राज्य बन सकेगा.

इस अवसर पर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, महापौर रांची नगर निगम आशा लकड़ा,  सचिव नगर विकास विभाग अजय कुमार सिंह. निदेशक राज्य शहरी विकास अभिकरण अमित कुमार, नगर आयुक्त रांची मनोज कुमार, डिप्टी एडवाइजर सीपीएचईओ भारत सरकार डॉ रमाकांत, राज्य के सभी नगर निगम के मेयर, डिप्टी मेयर, सभी नगर परिषद, नगर पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, कार्यपालक पदाधिकारी, सिटी मैनेजर एवं मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे.

must read