मौसम का मिज़ाज दिल्ली में गर्म है। पारा 46-40degree फारेन हाईट है। लेकिन राँची में बादल छाएँ हुए है और पारा 33-26 degree फारेन हाईट है।आनंद लीजिए। ये छनिक है।

इसके बाद मानसून के आने से पहले तक राज्यवासियों को चिलचिलाती धूप और भीषण गर्मी का सामना करना पड़ेगा। हालांकि इस बीच आसमान में बादल छाने और छिटपुट वर्षा होने से लोगों को गर्मी से राहत मिल सकती है। और मिल रही है। 

मौसम केंद्र रांची के अनुसार अगले चार दिन में रांची सहित पूरे राज्य भर में उच्चतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने के साथ गर्मी का सामना राज्य वासियों को करना पड़ सकता है। 

मौसम केंद्र के अनुसार, 22 मई को रांची सहित राज्य के अन्य जिलों में कहीं-कहीं आसमान में बादल छाने, वज्रपात और तेज हवा के साथ वर्षा होने का अनुमान लगाया गया है, इस वजह से लोगों को भीषण गर्मी से थोड़ी राहत मिलेगी। 

हालांकि इसके बाद उमस भरी गर्मी से लोग परेशान रहेंगे। मौसम विभाग के अनुसार 31 मई को केरल में मानसून के दस्तक देने की संभावना है। इसके बाद झारखंड में 16 जून को मानसून प्रवेश कर सकता है। 

मौसम पूर्वानुमान वैज्ञानिक सह निदेशक अभिषेक आनंद ने बताया कि इस वर्ष केरल में 28 से चार जून के बीच मानसून दस्तक देगा। इसके बाद अगर सभी चीजें ठीक रहीं तो आठ जून से 16 जून के बीच मानसून झारखंड में प्रवेश कर जाएगा। 

मौसम विभाग के अनुसार झारखंड में मानसून के दस्तक देने की सामान्य तिथि 12 जून और रांची में 15 जून है। अभी तक मानसून की जो स्थितियां बनी हैं, उसके अनुसार मानसून आगमन के सामान्य तिथि में कुछ फेरबदल हो सकती है। 

अभिषेक आनंद ने बताया कि पूर्वानुमान के अनुसार देश में सेकंड हाफ में मानसून की अच्छी वर्षा होगी। मानसून को लेकर सेकंड अपडेट मई के अंतिम सप्ताह में फिर जारी किया जाएगा उसके बाद अनुमान लगाना आसान होगा।

-----------------------------Advertisement------------------------------------

must read