झारखंड की पूर्व सीएम हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन ने जीत हासिल की हैं। उन्हें 26 हजार से अधिक वोटों से जीत मिली हैं।  

कल्पना की जीत से राज्य की राजनीति में कई तरह की चर्चाएं तेज हो गई है। बड़ा सवाल यह है कि कल्पना सोरेन की जीत से झारखंड की राजनीति में बड़े बदलाव का संकेत हैं। 

कल्पना सोरेन राजनीति में कदम रखी, तभी से उसके भविष्य को लेकर चर्चा तेज हो गई थी। राजनीतिक एक्सपर्ट यह मानते हैं कि कल्पना की जीत ने राज्य को एक नेता दे दिया है। 

कल्पना झारखंड मुक्ति मोरचा में हेमंत सोरेन के जेल जाने के बाद भी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने में सफल रही। हेमंत सोरेन के जेल जाने को लेकर एक बड़ा मुद्दा बनाते हुए कल्पना सोरेन ने चुनाव में कदम रखा औऱ अपनी ज्यादातर सभाओं में हेमंत सोरेन के साथ हुए अन्याय का जिक्र किया।

-----------------------------Advertisement------------------------------------

must read