*All images by IPRD, Jharkhand

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि व्यक्ति के समुचित विकास के लिए गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा जरूरी है। आज के तकनीकी युग में केवल शिक्षित होने से काम नहीं चलेगा। वही समाज, राज्य, देश आगे बढे़गा, जिसके पास ज्ञान और विशेषताओं का भंडार होगा। झारखंड सरकार इस ओर विशेष ध्यान दे रही है। राज्य सरकार नीति आयोग के साथ समन्वय स्थापित कर गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बढ़ावा दे रही है। उक्त बातें उन्होंने जैप-आइटी के वेंडरों द्वारा चयनित अभ्यार्थियों को चयन पत्र वितरण कार्यक्रम में कहीं। उन्होंने कहा कि चयनित अभ्यार्थी राज्य में स्कूली शिक्षा के प्रबंधन, गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की स्थिति और इसमें सुधार आदि के प्रति सरकार को रिपोर्ट देंगे।
 

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार मानसिक विकास के लिए शिक्षा पद्धति विकासित करने का काम कर रही है। नव चयनित अभ्यार्थी अपने ज्ञान और आइडिया का उपयोग कर शिक्षा व्यवस्था सुधारने में सहयोग करें। सभी को इस काम का बीड़ा उठाना है। गुणवत्तापूर्ण मानव संसाधन की कमी को पूरा करके ही हम अपने राज्य को आगे बढ़ा सकेंगे।

कार्यक्रम में स्कूली शिक्षा मंत्री नीरा यादव, स्कूली शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव ए.पी. सिंह, शिक्षा विभाग के अपर सचिव डॉ शैलेश कुमार चौरसिया, राज्य परियोजना निदेशक उमाशंकर सिंह, प्राथमिक शिक्षा निदेशक आकांक्षा रंजन समेत अन्य लोग उपस्थित थे। 

must read