समृद्ध राज्य की गरीबी को हमें दूर करना है। गांव चौपाल के माध्यम से आपकी सोच को सकारात्मक दिशा में परिवर्तित करना चाहता हूं। समय के साथ इसमें बदलाव जरूरी है अन्यथा हम पीछे छूट जाएंगे। सोच बदलने से ही झारखण्ड बदलेगा। युवा अपने गांव को दिशा देने तक बीड़ा उठाएं। ऐसा कार्य करें ताकि वीर शहीद बुधु भगत की तरह चिर काल तक लोग आपको याद रख सकें। उपरोक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही। वे चान्हो के सिलागाई में आयोजित ग्राम चौपाल कार्यक्रम में बोल रहे थे।

रघुवर दास ने कहा कि आपकी जागरूकता ही आपके गांव को स्वच्छ, स्वस्थ, नशामुक्त आदर्श ग्राम बना सकती है।

शहीद बुधु भगत के गाँव पेयजल आपूर्ति योजना का शुभारंभ
मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद देश की स्वाधीनता व अत्याचार के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले वीर शहीदों को किसी ने याद नहीं किया। लेकिन वर्तमान सरकार ने वीर शहीदों के सम्मान में उनके गांव को विकसित गांव बनाने का संकल्प लिया है। वीर बुधु भगत के गांव आकर मुझे खुशी के साथ गर्व की अनुभूति हो रही है कि आज आदर्श ग्राम के तहत पेयजल आपूर्ति योजना का शुभारंभ कर रहा हूं। यह तो प्रथम चरण की योजना है ऐसे चार अन्य  का शुभारंभ जल्द होगा। 49 करोड़ 30 लाख की लागत से वीर बुधु भगत के गांव को विकसित कर आदर्श ग्राम बनाया जाएगा। जहां गाँव का एक एक ग्रामीण मूलभूत सुविधाओं से आच्छादित होगा। श्री दास ने बताया कि प्रधानमंत्री जी की पहल पर रांची स्थित पुराने जेल को 25 करोड़ की लागत से जीर्णोद्धार किया जा रहा है, जहां धरती आबा बिरसा मुंडा की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। साथ ही, देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों से संबंधित जानकारी मिलेगी। ताकि आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा प्राप्त कर देश और राज्य निर्माण में अपना सहयोग दे सके।

10 हजार शिक्षकों को मिलेगा नियुक्ति पत्र, नारी शक्ति बनेगी राज्य की शक्ति
मुख्यमंत्री ने कहा कि वीर बुधु भगत के गांव समेत पूरे झारखण्ड का घर शिक्षित हो इसके लिए 15 नवंबर को 10 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा जाएगा। ताकि बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जा सके। स्कूल जा रहें बच्चों को दूध उपलब्ध इसके भी प्रयास हो रहें हैं, जिससे वे कुपोषण मुक्त हो सकें। मुख्यमंत्री ने बताया कि नारी शक्ति को हमें सशक्त करना है। आनेवाले दिनों में स्कूली बच्चों के लिए ड्रेस का निर्माण करेंगी। हर वर्ष 80 लाख ड्रेस सरकार बच्चों को देती है। 

-------Advertisement-------Jharkhand Janjatiya Mahoutsav-2022

महिला स्वावलंबन का मार्ग हो रहा प्रशस्त
मुख्यमंत्री ने कहा कि पॉल्ट्री फेडरेशन के गठन पूरे राज्य कर महिलाओं को जोड़ा जायेगा। उनके स्वावलंबन का मार्गप्रशस्त होगा। आदिवासी विकास समिति में भी महिलाओं को प्राथमिकता देते हुए गाँव के विकास की जिम्मेवारी सौंपी जा रही है। अब 5 लाख तक कि योजनाओं को वे सर्वसम्मति से अपने गांव में लागू कर सकती हैं।

14वें वित्त आयोग का पैसा गांव के विकास में खर्च करें मुखिया
मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव के मुखिया 14वें वित्त आयोग का पैसा गांव को मूलभूत सुविधा प्रदान करने में करें। श्री दास ने सिलागाई के मुखिया बुधराम उरांव को निदेश दिया कि ग्रामीणों के साथ बैठक कर उनकी सहमति से योजना बनाएं और लागू करें।

हर घर बिजली के लक्ष्य के करीब हैं हम
मुख्यमंत्री ने कहा कि 70 साल हो गए आजादी को। लेकिन झारखण्ड में जरूरत के अनुसार बिजली हेतु व्यवस्था नहीं की गई। राज्य को जहां 118 ग्रिड की जरूरत थी वहां मात्र 38 ग्रिड बनें। वर्तमान सरकार बिजली से हर घर को रोशन करने हेतु 80 ग्रिड और 257 सब स्टेशन का निर्माण द्रुतगति से कर रही है।  2019 तक 24 घंटा बिजली देने का लक्ष्य है। राज्य के तीन जिलों के प्रत्येक घर तक बिजली पहुंचा दी गई है।
 
इससे पूर्व मुख्यमंत्री में सिलागाई स्थित वीर बुधु भगत की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया

इस अवसर पर मांडर विधायिका गंगोत्री कुजूर, उपायुक्त रांची, वरीय आरक्षी अधीक्षक व अन्य उपस्थित थे।

-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga
-------Advertisement-------

must read