झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्रवार को हेमंत सोरेन सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राज्य के विकास के लिए नहीं सत्ता में बैठे लोगों की सुख सुविधा के लिए पैसों को खर्च किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि खजाना खाली का बहाना बताकर राज्य का विकास काम रोक दिया गया है।

बीजेपी प्रदेश कार्यालाय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में रघुवर दास ने कहा कि रांची से दिल्ली के रोजाना 17 फ्लाइट होने के बाद भी सीएम चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली जाते हैं। दिल्ली में झारखंड भवन में सीएम के लिए कमरा होने के बाद भी वहां 6 लाख रुपए महीना वाले मकान में ठहरते हैं। यह बंगला राज्य सरकार की तरफ से दिल्ली में एनआरआई इन्वेस्टर सेल के नाम पर दिल्ली के आनंद निकेतन में लिया गया है।

पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए कांग्रेस को पैसा पहुंचा रही हेमंत सरकार 
रघुवर दास ने कहा कि झारखंड को कांग्रेस चारागाह बना कर छोड़ दी है। वे यहां से लूट रही है। उन्होंने कहा कि इस बात की चर्चा तेज है कि पश्चिम बंगाल चुनाव से पहले हेमंत सोरेन सरकार की तरफ से मोटी रकम कांग्रेस को पहुंचाया गया है। मुख्यमंत्री भले इसे औपचारिक मुलाकात बता रहे हैं।

5 साल तक सादगी से मनाई वर्षगांठ
रघुवर दास ने कहा कि 13 महीने में सरकार खजाना खाली होने का बहाना बनाते रही और करोड़ों रुपए खर्च करके वर्षगांठ मनाई। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार कभी भी करोड़ो रुपए खर्च कर वर्षगांठ नहीं मनाई। 5 साल तक सादगी से वर्षगांठ मनाया।

हेमंत सरकार कमजोर ही नहीं अक्षम भी है 
जब सरकार को नेतृत्व करने वाला अक्षम हो तब सारी मुसीबतें शुरू हो जाती हैं। कमजोर सरकार कोई भी फैसला लेने से कतराती है। राज्य का विकास थम जाता है। चुनाव के दौरान संविदाकर्मियों, पारा शिक्षक और पिछड़ों के आरक्षण पर बड़े वादों का सब्जबाग तो दिखाया गया, लेकिन सरकार आते ही निर्णय लेने से बचने लगे। निर्णय नहीं लेना भी कमजोर सरकार की निशानी है। हर जगह एक ही गान होता है, पैसे का अभाव।

Danik Bhaskar reported story 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read