*Image credit newindiaexpress.com

केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा है कि नरेन्द्र मोदी सरकारउत्तराखंड के जोशीमठ में आयी प्राकृतिक आपदा के समय राज्यके लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। महाराष्ट्र मेंपत्रकारों से बातचीत में श्री अमित शाह ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा राहत तथा बचाव कार्य जारी है और राष्ट्रीयआपदा मोचन बल(एनडीआरएफ) की 3 टीमें मौक़े पर पहुँच गईहैं। उन्होंने कहा कि बाकी की टीमें भी उत्तराखंड जाने के लिएतैयार हैं। जल्दी ही बाकी टीमें भी वहाँ पहुंच जाएंगी। श्री अमितशाह ने यह भी कहा कि आइटीबीपी के जवान भी वहां पहुंच गएहैं साथ ही राज्य का तंत्र भी एक्टिव हो चुका है।

 

श्री अमित शाह ने कहा कि जोशीमठ के पास ग्लेशियर टूटने केकारण और पहाड़ नदी में गिरने के कारण पानी का बहाव बहुतबढ गया है तथा पहले ऋषि गंगा और बाद में अलकनंदा में जलस्तर बढ़ने की शुरुआत हुई है। श्री शाह ने कहा कि कुछ लोगोंके हताहत होने की भी प्राथमिक सूचना प्राप्त हुई है। केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि संकट की इस घड़ी मे सरकार उत्तराखंड के साथखड़ी है और ऐसा प्रयास किया जा रहा है कि हर संभव मदददेकर इस संकट से जल्द से जल्द निजात पाकर आम जनजीवनपहले की तरह शुरू किया जा सके।

 

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से बात होचुकी है और वायु सेना को भी अलर्ट कर दिया गया है। श्रीअमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने भी फोन करकेएनडीआरएफ की टीम का मार्गदर्शन किया है। श्री शाह ने कहाकि गृह राज्य मंत्री श्री नित्यानंद राय गृह मंत्रालय केएनडीआरएफ के कंट्रोल रूम में बैठकर स्वयं स्थिति पर नज़ररखे हुए हैं। श्री अमित शाह ने यह भी कहा कि वे उत्तराखंड केसभी निवासियों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि सभीपरिस्थितियों को ध्यान में रखकर शीघ्र से शीघ्र स्थिति कोनियंत्रण में किया जा सकेगा और इस आपदा से निपटने में केंद्र सरकार द्वारा प्राथमिकता के आधार पर हर आवश्यक मदद दी जाएगी।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read