जनजातीय उपजों तथा उत्पादों के विपणन द्वारा और उन्हें समर्थन प्रदान करके जनजातीय कारीगरों की आजीविका संवर्धन पहल के तहत. ट्राईफेड देश भर में अपने खुदरा परिचालन तंत्र का विस्तार कर रहा है। देश के 131 तमा मध्य प्रदेश राज्य के तीसरे द्वाइम्स इंडिया बिक्री केंद्र का उद्घाटन 25 मार्च 2021 को जबलपुर में किया गया।

ट्राईफेड के प्रबंध निदेशक श्री प्रवीर कृष्ण ने जबलपुर में नए ट्राइस इंडिया फ्लैगशिप स्टोर के वर्चुअल उदघाटन के अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि "जनजातीय समुदाय का सशक्तीकरण ही ट्राईफड का मुख्य उद्देश्य है। 

हमारे सभी प्रयास, चाहे वे उनकी उपज के लिए बेहतर मूल्य प्राप्त करना हो, या उपज के मूल्य संवर्धन में उनकी मदद करना, या फिर उन्हें बड़े बाजारों तक पहुंच बनाने में सक्षम बनाना, सभी इस उद्देश्य की प्राप्त के लक्ष्य हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए, हम अपने सुबरा परिचालन तंत्र का लगातार विस्तार कर रहे हैं।

"इंडिया अंडर बन रूफ अर्थात पूरे भारत के सभी उत्पाद एक ही स्थान पर उपलब्ध हो की संकल्पना को पूरा करते हुए. इस विकी केंद्र में भारत के सभी राज्यों से माहेश्वरी पोचमपल्ली, चंदेरी, बाघ जैसी परंपराओं के सर्वश्रेष्ठ प्रामाणिक जनजातीय हस्तशिल्प व पारधा उत्पाद उपलब्ध होंगे। 
 

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

इसके साथ-साथ यहां पर सभी प्रकार के प्राकृतिक एवं ऑर्गेनिक उत्पाद, वन धन एसेंशियल्स, प्रतिक्षाव्दक उत्पाद जैसे ऑर्गेनिक अनाज मसाले, हर्बल चाय के अलावा अति सुंदर बेल और धातु से बनी कलाकृतियां भी उपलब्ध होंगी। यह स्टोर विभिन्न उत्पादों के आधार पर आकर्षक समर्पित खडा में बटा होगा जैसे कि परिधान, साड़ी और बाघ प्रिंट के स्टोल, पुरुषों, महिलाओं और बच्चों के लिए रेडीमेड वसा जनजातीय आभूषण धातु से बने उत्पाद, लोहे से बने उत्पाद. निट्टी के बर्तन, धन प्राकृतिक उत्पाद आदि।

शोरूम के शुरुआती दिनों में स्टोर का विशेष आकर्षण होगा उत्कृष्ट होली संग्रह - जिसमें रंग-बिरंगे पारंपरिक कुर्ते, साड़ी, स्टोल, शर्यत, ऑर्गेनिक गुलाल, मेवे आदि उपलब्ध होंगे।

वर्ष 1999 में , महादेव रोड, नई दिल्ली में पहले बिकी केंद्र से लेकर मारत भर में 131वें खुदरा विक्री केंद्र तक के सफर से पता चलता है कि ट्राइब्स इंडिया ब्रांड का तेजी से विकास हो रहा है।

जनजातीय कल्याण के लिए राष्ट्रीय नोडल एजेंसी के रूप में ट्राईफेड ने विपणन विकास और निरंतर कौशल उन्नयन के माध्यम से, भारत के समस्त जनजातीय समुदाय के आर्थिक कल्याण को बढ़ावा देकर उनके सशक्तीकरण के अपने उद्देश्य की पूर्ति के लिए, ट्राइब्स इंडिया ब्रांड के तहत अपने खुदरा बिक्री केंद्रों के तंत्र के माध्यम से जनजातीय कला और शिल्प वस्तुओं की खरीद तथा विपणन शुरू किया है।

ट्राईफंड देश भर में जनजातीय समुदाय के हितों की रक्षा और उन्हें आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।

must read