सदर अस्पताल रांची के 7 डॉक्टर और 3 स्वास्थ्यकर्मी भी संक्रमित हो गए हैं। तीनों स्वास्थ्यकर्मी लगातार लोगों का सैंपल कलेक्ट कर रहे थे। सभी संक्रमित को आइसोलेट कर दिया गया है। इसके साथ सदर अस्पताल प्रबंधन की तरफ से हॉस्पिटल परिसर को सेनेटाइज किया जा रहा है। इसके अलावा रिम्स के डेंटल विभाग के 4 स्टूडेंट्स के भी संक्रमित होने की सूचना आ रही है। 

भू राजस्व विभाग में 10 संक्रमित 8 संदेहास्पद, माइंस विभाग में 2 संक्रमित 7 संदेहास्पद , पंचायती राज विभाग में 4 संक्रमित, एनिमल हसबेंडरी में 1 संक्रमित, हेल्थ विभाग में 7 संक्रमित, विजिलेंस विभाग में 1 संक्रमित 3 संदेहास्पद, उच्च शिक्षा विभाग में 5 संक्रमित, 1 संदेहास्पद, सेकेंडरी एजुकेशन विभाग में 1 संक्रमित, दो बीमार, पर्यटन विभाग में 4 संक्रमित 1 की मौत, 7 संदेहास्पद, ग्रामीण विकास विभाग में 7 संदेहास्पद, उद्योग विभाग में 3 संक्रमित, 5 संदेहास्पद, ऊर्जा विभाग में 1 संदेहास्पद, वित्त विभाग में 4 संक्रमित, 1 संदेहास्पद, कार्मिक विभाग में 2 संक्रमित 4 संदेहास्पद, खाद्य आपूर्ति विभाग में 2 संक्रमित, आईपीआरडी में 8 संक्रमित , वन विभाग में 2 संक्रमित, पेयजल विभगा में 9 संक्रमित, 8 संदेहास्पद.

रांची के सबसे बड़े सरकारी कार्यालय सचिवावय में कोरोना विस्फोट हुआ है। हर विभाग में कोरोना संक्रमित घूम रहे हैं। संक्रमितों का अंदाजा इसी बात से लगयाा जा सकता है। एक सप्ताह के भीतर 96 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। साथ ही 4 लोगों की मौत हो गई है। इतना ही नहीं अभी भी 92 से ज्यादा लोग संदेहास्पद हैं जो दफ्तर आ रहे हैं। झारखंड सचिवालय सेवा संघ ने कहा है कि सरकार को अपने कर्मचारियों के प्रति जिम्मेदार होना होगा। 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read