कोरोना महामारी में अपने माता-पिता खोने वाले बच्चों के लिए प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने शनिवार को बड़ा ऐलान किया है. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, पीएम केयर्स फंड फॉर चिल्ड्रेन स्कीम के तहत महामारी में अनाथ हुए बच्चों को पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये दिए जाएंगे. इसके साथ ही, उनकी शिक्षा, स्वास्थ्य और मासिक भत्ते को लेकर भी इंतजाम किया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि कोरोना महामारी में माता-पिता गंवाने वाले बच्चों की 'पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रेन' योजना के तहत मदद की जाएगी. सरकार की ओर से अनाथ बच्चों को मुफ्त शिक्षा दी जाएगी और उनका हेल्थ बीमा भी कराया जाएगा.

पीएमओ ने कहा कि कोरोना की वजह से अनाथ हुए बच्चों को 18 साल पूरा होने पर मासिक भत्ता दिया जाएगा और 23 साल होने पर पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये दिए जाएंगे. पीएमओ ने कहा कि कोरोना की वजह से अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को 18 साल की अवधि तक पांच लाख का मुफ्त हेल्थ बीमा भी मिलेगा. साथ ही, ऐसे बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए एजुकेशन लोन दिलाने में मदद की जाएगी और इसका ब्याज पीएम केयर्स फंड से दिया जाएगा.

पीएमओ ने कहा कि ऐसे 10 साल से कम उम्र के अनाथ बच्चों को नजदीक के केंद्रीय विद्यालय में दाखिला दिलाया जाएगा. प्राइवेट स्कूल में एडमिशन होने पर उनकी फीस पीएम केयर्स फंड से केंद्र सरकार जमा कराएगी. इसके अलावा, बच्चों की किताबें, स्कूल ड्रेस आदि का खर्च भी केंद्र सरकार उठाएगी. वहीं, 11 साल से अधिक उम्र के बच्चों का दाखिला सैनिक स्कूल और नवोदय विद्यालय में कराया जाएगा.

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read