झारखंड में पंचायतों की अवधि 15 जुलाई को समाप्त हो रही है।लेकिन चुनाव की कोई उम्मीद अभी नही है ।हाँ झारखंड में त्रिस्तरीय पंचायतों के कार्यकाल की अवधि को एक बार फिर छह महीने के लिए बढ़ सकता है। 

“सरकार इस पर विचार कर रही है। पंचायतों का कार्यकाल बढ़ाने के लिए राज्य सरकार जल्द ही अध्यादेश ला सकती है”, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम ने कहा है कि स्थिति सामान्य होने के बाद दिसंबर के अंतिम सप्ताह में राज्य में पंचायत चुनाव का कार्य संपन्न करा लिया जायेगा।

आलम ने कहा  कि दिसंबर तक त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न हो जाने के बाद फिर से तीसरी बार कार्यकाल को बढ़ाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इससे पहले दिसंबर 2020 में राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण काल के कारण चुनाव नहीं होने की स्थिति में त्रिस्तरीय पंचायतों का कार्यकाल छह महीने के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया था।

यह अवधि 15 जुलाई को समाप्त हो रही है, लेकिन अभी कोरोना के कारण चुनाव नहीं हो पाया है। इस वजह से पंचायतों का विकास बाधित न हो और काम होता रहे, इसके लिए अध्यादेश लाकर एक बार फिर से कार्यकाल को छह महीने के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया जा सकता है।झारखंड में त्रिस्तरीय पंचायतों का कार्यकाल जनवरी में ही समाप्त हो गया था। इसके बाद केंद्र सरकार से अनुमति लेकर पंचायतों का कार्यकाल अगले छह महीने के लिए कमेटियों के हवाले किया गया था।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read