चाईबासा पुलिस को नक्सल उन्मूलन कार्रवाई में शनिवार को एक और बड़ी सफलता मिली। पुलिस ने पीएलएफआई के एरिया कमांडर सुजीत कुमार राम उर्फ साहू जी समेत दो अन्य नक्सली पुलिस के फंदे में फँसा लिया है ।

चाईबासा पुलिस के मनोहरपुर डीएसपी दाउद किड़ो के नेतृत्व में आनंदपुर थाना क्षेत्र के बोरोतिका गांव के एक घर से इन नक्सली लोग को पकड़ा और गिरफ़्तार किया।

सच तो यह है की  सुजीत दो लाख रुपए का इनामी है और आनंदपुर व बानो क्षेत्र में उत्पात मचाये हुए था। उसके पास से भारी मात्रा में हथियार, नकद, पीएलएफआई का लैटर पैड, रसीद व रोजमर्रा के अन्य सामग्रियों को भी बरामद किया गया है। यह जानकारी शनिवार को SP अजय लिंडा ने दी।

SP अजय लिंडा ने बताया कि साहूजी खूंटी जिले के तोरपा थाना क्षेत्र के सारिदकेल गांव का रहने वाला है। उसके साथ दो अन्य पीएलएफआई सदस्य आनंदपुर के बोरोतिका निवासी राजू भुइयां व महावीर सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। 

और SP अजय लिंडा ने बताया कि साहूजी विगत 4 महीने से पुलिस के राडार पर था। विगत कुछ दिनों से यह सूचना मिल रही थी कि वह बोरोतिका इलाके में भ्रमणशील है। उसी आधार पर पुख्ता लोकेशन मिलने पर उसे दो अन्य साथियों के साथ पकड़ा गया।

SP ने बताया कि साहूजी पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के लगातार संपर्क में था। वह लेवी की राशि दिनेश गोप को भेजता था। साहूजी के खिलाफ आनंदपुर, गुदड़ी, बंदगांव, मनोहरपुर, सिमडेगा जिले के बानो व ओड़िशाक बिश्रा थाना में कुल 10 मामले दर्ज हैं। इसमें हत्या का मामला भी शामिल है।

. 315 बोर की 5 रायफल, .315 बोर के 17 जिंदा कारतूस, 7 मैगजीन, एक देशी पिस्टल, 17 जिंदा कारतूस, एक दो नाली बंदूक, दो नाली बंदूक के 8 कारतूस, 7.62 गुना 25 बोर के 30 कारतूस, 3 वायरलेस सेट, एक वाॅकी टाॅकी, 8 मोबाइल फोन, 2 सिम कार्ड, एक चार्जर, 3 पावर बैंक, 50 हजार रुपए नकद, एक मैगजीन पाउच, एक बैग, पीएलएफआई का पर्चा व रसीद पैड।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read