*images by IPRD

माननीया राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि मनुष्य जीवन हेतु आध्यात्म का बहुत महत्व है। योग एक अभ्यास है इसलिए इसे अपने जीवन में अपनाना चाहिए।

माननीया राज्यपाल ने बताया कि योग को बच्चों के पाठ्यक्रम में शामिल करने के लिए सरकार को उन्होंने पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि शिक्षा से ही विश्व में परिवर्तन होता है। उन्होंने कहा कि परिवार समाज के लिए समय निकालकर कार्य करना चाहिएA धन से कपड़ा खरीद सकते हैं इज्जत नहीं] गहना खरीद सकते हैं सुंदरता नहीं इसलिए सब कुछ धन नहीं है खुशनुमा जिंदगी जीने के लिए योग करना चाहिए।

माननीया राज्यपाल आज महिला कॉलेज जमशेदपुर में प्रजापति ब्रह्मा कुमारी के द्वारा आयोजित शिक्षाविदों के सम्मेलन में मूल्य योग और आध्यात्मिक शिक्षा द्वारा वैश्विक परिवर्तन से संबंधित कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रही थी।इस अवसर पर माननीया राज्यपाल ने कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि ब्रम्हाकुमारी जाने से सफेद कपड़ा पहनना पड़ता है ऐसी बात नहीं है आत्मा साफ होना चाहिए तथा यह भी कहा कि मन वचन कर्म अच्छा होना चाहिए। आज विश्व गुरु बनने का सपना हमारा देश देख रहा है

व्यापार धन विज्ञान में तो हम आगे हैं इसे भी अपने जीवन में अपनाने की जरूरत है जिससे हमारा देश विश्व गुरु बन  सके | इस अवसर पर संस्थान के ब्रह्मकुमार मृत्युंजय तथा कोल्हन विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर श्रीमती शुक्ला मोहंती एवं विभिन्न कॉलेजों एवं विद्यालय से आए हुए प्राचार्य तथा शिक्षकगण उपस्थित थे |
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Savtribai Phule Kishori Samriddhi Yojna

must read