Governor Syed Ahmad was on his toes today when as many as 26 top officials of the Union Government landed in town to review the isssues connected with law and order,Naxal menace and development of Jharkhand.His office issued press releases showcasing his decisions.These included dissolving the youth commission constituted by former Deputy CM Sudesh Mahto of the Arjun Munda government.

Sample his press releases .

महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने आज भारत सरकार के कैबिनेट सचिव श्री अजीत सेठ की अध्यक्षता में आये हुए भारत सरकार के विभिन्न मंत्रालयों के सचिवों को चाय पर राजभवन आमंत्रित किया। इस अवसर पर राज्यपाल के परामर्षी श्री मधुकर गुप्ता एवं श्री के0 विजय कुमार सहित राज्य के वरिष्ठ पदाधिकारीगण उपसिथत थे।

इससे पूर्व भारत सरकार के कैबिनेट सचिव श्री अजीत सेठ आज पूर्वाहन राजभवन पहुँचे। राजभवन पहुँचने पर राज्यपाल के प्रधान सचिव श्री एन0एन0 सिन्हा ने उनका स्वागत किया। कैबिनेट सचिव श्री अजीत सेठ राज्यपाल महोदय से भी मिले। यह एक षिष्टाचार भेंट थी। वाŸà¤°à¥à¤¾à¤¾ के क्रम में दोनों के मध्य राज्य में विकास के कार्यक्रमों पर चर्चा हुर्इ।
—————————————————-
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद से आज इदर-ए-षरिया का एक षिष्टमंडल राजभवन आकर मिला एवं अल्पसंख्यकों के समस्याओं के निराकरण करने से संबंधित एक ज्ञापन पत्र समर्पित किया।
—————————————————
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद से आज काँग्रेस का एक षिष्टमंडल अपने वरीय नेता श्री पी0एन0 सिंह के नेतृत्व में राजभवन आकर मिला एवं राज्य की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया।
—————————————————-
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद से आज मयूराक्षी ग्रामीण महाविधालय के श्री श्रीमन्त चटर्जी के नेतृत्व में सम्बद्ध डिग्री महाविधालय महासंघ का एक षिष्टमंडल राजभवन आकर मिला एवं स्थार्इ सम्बद्धता प्राप्त महाविधालयों को अंगीभूत महाविधालय करने का आग्रह किया गया। षिष्टमंडल में श्री नरेन्द्र कुमार सिंह, प्रो0 रमन कुमार ठाकुर, राजेष सिंह सहित कर्इ षिक्षकगण मौजूद थे।
—————————————————-
आज राज्यपाल सचिवालय में विष्वविधालय निरीक्षक के पद पर श्री एम0ए0 खान ने योगदान दिया। विदित हो कि श्री खान की नियुकित राज्यपाल सचिवालय में विष्वविधालय निरीक्षक के पद पर को-टर्मिनस के आधार पर की गर्इ है।

--------------------------Advertisement--------------------------1000 days of Hemant Govt

must read