In a review meeting held in Dumka today,Governor’s Advisor Madhukar Gupta has directed officials to complete the development schemes in time.

The state public relations department issued a press release giving details of this meeting.

 

 
महामहिम राज्यपाल के सलाहकार श्री मधुकर गुप्ता एवं श्री के0 विजयकुमार की à¤…ध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में प्रमंडलस्तरीय विधि व्यवस्था की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक संताल परगना, दुमका द्वारा प्रमंडल की विधि व्यवस्था से संबंधित पावरपाॅइन्ट प्रजेन्टेशन के पश्चात श्री मधुकर गुप्ता ने कहा कि लोगों की आवश्यकता/आकांक्षा की पूर्ति कैम्प लगाकर करें। गिरफतार किये गये

--------------------------Advertisement--------------------------1000 days of Hemant Govt

अपराधी के विरूद्ध शीघ्र कार्रवाई होनी चाहिए। सुदूरवत्र्ती इलाकों में निरंतर भ्रमण करें एवं आकस्मिक निरीक्षण भी करें। स्वास्थ्य एवं खाद्य आपूर्ति से संबंधित कैम्पों को भी लगाया जाय। श्री के0 विजयकुमार ने उच्च गुणवत्ता के साथ कार्य करने, अपराध होने पर तुरंत गिरफतार करने एवं धारा 153 की कार्रवाई करने का आदेश दिया। उन्होंने स्पेशल टास्क फोर्स के माध्यम से शीघ्र कार्यवाही पूर्ण करने का आदेश दिया। अपराध होने की आशंका तथा अपराध घटित होने, दोनों की स्थिति में त्वरित कार्रवाई प्रारंभ करें। उन्होंने गवाहों एवं अधीनस्थ कर्मचारियों को पूरा सहयोग करने के लिए कहा। उनके द्वारा यह भी निदेश दिया गया कि विधि व्यवस्था से संबंधित समस्या के संबंध में उनसे तुरंत सम्पर्क किया जाय। मुख्य सचिव ने विगत दिनों प्रमंडल में घटित घटनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि उन घटनाओं का नियमानुकूल सभी कार्रवाई शीघ्र पूर्ण होनी चाहिए। क्षेत्र में घटित होने वाले अप्रासंगिक घटनाओं को समय रहते ध्यान देने की जरूरत है। नक्सली गतिविधियों एवं सीमा पार से होने वाले अपराधों पर पैनी नजर रखते हुए शीघ्र कार्रवाई करने के लिए कहा गया। गृह सचिव ने अपराध के कारणों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि होमगार्ड एवं काॅन्सटेबल का रिक्रुटमेन्ट शीघ्र किया जाय उन्होने इन्टरनल विजिलेन्स एवं जेलों की जाँच एवं सुरक्षा हेतु भी निदेश दिया। साथ ही बेहतर कार्य करने वाले को पुरस्कृत और कार्य नहीं करने वाले कर्मचारी को दंडित करने के लिए भी कहा। बैठक में पुलिस महानिदेशक, झारखण्ड; विकास आयुक्त, प्रधान सचिव मंत्रिमंडल सचिवालय एवं समन्वय विभाग, प्रमंडलीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिए उपमहानिरीक्षक, सभी जिला के उपायुक्त एवं पुलिस अधीक्षक उपस्थित थे।

must read