*Image credit Dainik Bhaskar

जैसा पंजाब में हुवा, वैसा झारखंड में होना शुरू है । ब्राउन शुगर की तस्करी के मामले में सुखदेव नगर इलाके से गिरफ्तार कर जेल भेजी गई दिल्ली की मॉडल ज्योति कुमार के बाद उसके तथाकथित प्रेमी गांधी उर्फ शैलेश को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।
कल देर रात पुलिस ने छापेमारी कर पिस्का मोड़ के पास से शैलेश को गिरफ्तार किया। ज्योति से पूछताछ में पुलिस को नशे के कारोबार के बीच बने इस लव एंगल की जानकारी मिली थी। पुलिस 18 दिनों से इसकी तलाश कर रही थी। इससे पहले भी इस मामले में कई नाम सामने आ चुके हैं। जिसके जरिए पूरे राज्य में नशा तस्करों का नेटवर्क खड़ा किया गया था।

पूछताछ में ज्योति ने बताया था, 'बॉयफ्रेंड गांधी के साथ मिलकर इस पूरे नेटवर्क का संचालन करती हूं। गांधी को कारोबार खड़ा करने में बतौर दोस्त हमनें मदद की। दोनों के बीच काफी गहरे संबंध थे। दोनों कई बार अलग-अलग जगहों की यात्राएं भी कर चुके हैं।' इसके अलावा ज्योति के दिल्ली जाने और आने का पूरा प्लान गांधी ही तैयार करता था। ज्योति ने बताया, 'मॉडलिंग की दुनिया में कुछ खास नहीं कर पाने के कारण इस धंधे में शामिल हो गई। इसमें कम मेहनत मे अधिक पैसा था।'

रांची में 6 जगह होती थी सप्लाई

पुलिस की पूछताछ में गांधी ने बताया, 'रांची में छह अलग-अलग जगहों पर ब्राउन शुगर की सप्लाई करता था। इसमें सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में इरगू टोली, विद्यानगर पुल और शिव शक्ति नगर के अलावा लोअर बाजार, हिंद पीढ़ी, लालपुर और बरियातू शामिल हैं। इसमें से ज्यादातर ग्राहक युवा थे। यह किसी न किसी कॉलेज अथवा स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे। ब्राउन शुगर की एक पुड़िया अलग-अलग कीमतों पर बेचता था। माल कम होने पर कीमत बढ़ जाती थी। कई बार इसके लिए ग्राहक घंटों चक्कर लगाते थे। इसके लिए कोई भी कीमत देने के लिए तैयार हो जाते थे।'

नवंबर में हुई पहली गिरफ्तारी

नशे के इस पूरे गिरोह की सबसे अहम कड़ी मानी जा रही दिल्ली की मॉडल ज्योति कुमारी की गिरफ्तारी 15 नवंबर में हुई। 16 नवंबर को पुलिस ने इसका खुलासा किया। ज्योति के पास से कुल 28.26 ग्राम ब्राउन शुगर बरामद किया गया। इसके अलावा हर्ष नाम के एक युवक को भी गिरफ्तार किया गया। ज्योति विद्यानगर कॉलोनी स्थित स्वर्णरेखा की रहने वाली है।

पहली छापेमारी के दौरान ही शैलेश उर्फ गांधी का नाम सामने आया था। वह मौके से फरार हो गया था। पूछताछ में पता चला कि वह ज्योति का प्रेमी है। इसके बाद से लगातार पुलिस इस पूरे नेटवर्क को पकड़ने के लिए सक्रिय है। गत 20 नवंबर को इस मामले में एक और महिला रिजवाना को उसके तीन और साथियों के साथ गिरफ्तार किया गया। सुखदेव नगर पुलिस को सूचना मिली कि पिस्का मोड़ के पास कुछ युवक ब्राउन शुगर की सप्लाई करने के लिए आए हैं। जानकारी मिलते ही सुखदेव नगर थाना प्रभारी ममता ने सादे लिबास में गैलेक्सी मॉल के पास छापेमारी की।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read