देश के सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के संस्थानों और कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण सूचना है. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने मंगलवार को ही 22.55 करोड़ खातों में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 8.5 फीसदी का ब्याज क्रेडिट कर दिया है. 

रिटायमेंट फंड बॉडी ने माईक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर इस बात की जानकारी दी है कि वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 22.55 करोड़ खातों में 8.5 फीसदी का ब्याज क्रेडिट कर दिया गया है.

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने ट्विटर पर जानकारी दी है कि वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 22.55 करोड़ खातों में 8.50 फीसदी का ब्याज जमा कर दिया गया है. बता दें कि ईपीएफओ ने 30 अक्टूबर 2021 को एक सर्कुलर जारी कर कर्मचारी भविष्य निधि के सदस्य खातों के लिए वित्त वर्ष 2020-21 के लिए ब्याज दर की घोषणा की थी. 

ईपीएफओ ने अपने आधिकारिक सर्कुलर में बताया था कि श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि योजना, 1952 के पैरा 60(1) के तहत ईपीएफ के प्रत्येक सदस्य के खाते में वर्ष 2020-21 के लिए 8.50 फीसदी की दर से ब्याज जमा करने की केंद्र सरकार की मंजूरी से अवगत करा दिया है. ईपीएफ योजना, 1952 के पैरा 60 के प्रावधानों के अनुसार इसका भुगतान किया जाएगा.

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read