दक्षिण पूर्व रेलवे के रांची मण्डल में रांची और नामकोम रेलवे स्टेशन के बीच एक स्पेशल क्लास लेवल क्रोसिंग MH -27 (कतारीबागान समपार फाटक) है । 

जहां पूर्व में भारी जाम लगा करती थी । जिससे रांची से नामकोम मूरी के बीच आने- जाने वाली ट्रेनों को वहाँ ज्यादा समय रुकना पड़ता था और विलंब होता था । इसकी चौड़ाई मात्र 07 मीटर थी । ट्रेनों के आवागमन के समय भारी भीड़ रेलवे फाटक के दोनों ओर रहती थी और लोगों को काफी इंतज़ार करना पड़ता था । 

इस समस्या से निजात पाने के लिए इस फाटक को विकसित करने और इसे चौड़ा करने के कार्य को प्राथमिकता दी गई। ताकि इस फाटक से आने जाने वाले रोड ट्रेफिक को गति मिले और ट्रेनों को भी ज्यादा देर रुकना न पड़े। अब इसे रेलवे बाउंड्री के अंदर चार लेन में विभक्त कर दिया गया है । वहीं रेलवे बाउंड्री के बाहर रोड की चौड़ाई कतारीबागान की ओर 08.5 मीटर और चुटिया की ओर 07.2 मीटर चौड़ा है । 

अप और डाउन दोनों ओर की ट्रैक वाली जगह को हेक्सागोनल ब्लोक्क्स के स्थान पर रबर वाली सतह से ढंका भी गया है, ताकि इसपर वहाँ सभी प्रकार के वाहनों को चलने में सुविधा हो और यह जगह पूरी तरह से विकसित हो । इस कार्य के पूरा होने से ट्रेनों के आवागमन में बहुत सहूलियत हुई है तथा आमजन को राहत मिली है । इस कार्य में लगभग 50 लाख रुपए खर्च हुए हैं ।
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read