Representational Pic

दिनांक 2 फरवरी को जिला स्तर पर नवनियुक्त 19 जिलों के मनरेगा लोकपालों ने आज अपने कामकाज को संभालते हुए अपने आवंटित जिलों में योगदान दिया। बता दें कि मनरेगा लोकपालों को प्रशिक्षण/उन्मुखीकरण कार्यक्रम ग्रामीण विकास संस्थान(सर्ड) संस्थान में को प्रशिक्षण भी दिया गया था।

ज्ञातव्य हो कि लोकपाल का मुख्य कार्य राज्य/ प्रखंड/ पंचायत/ ग्राम स्तर पर मनरेगा अंतर्गत विभिन्न माध्यमों से प्राप्त सभी शिकायतों का मनरेगा प्रावधान के अनुरूप निष्पक्ष जांच कर त्वरित समाधान करना है ताकि मनरेगा योजनाओं का सुचारु रुप से संचालित जवाबदेही का निर्धारण सुनिश्चित किया जा सके। लोकपाल का काम मनरेगा के कार्यो में पारदर्शिता लाना होता है। लोकपाल न सिर्फ योजनाओं की मॉनीटरिंग करते हैं,बल्कि इससे जुड़ी शिकायतों का भी समाधान करेंगे। राज्य में मनरेगा के तहत होने वाले कार्यो में अक्सर गड़बड़ी की शिकायतें आती हैं अब इन लोकपाल की महत्वपूर्ण जिम्मेवारी होगी इन गड़बड़ियों को रोकने के लिए। विभाग अभी 19 जिलों के लिए लोकपाल का चयन किया है,शेष पांच जिलों का चयन बाद में किया जायेगा।
इन जिलों के लिए ये लोकपाल----
नाम आवंटित जिला
कल्पना झा देवघर
•भूपेंद्र श्रीवास्तव धनबाद
राजेंद्र प्रसाद साह दुमका
पूनम कुमारी गोड्डा
सनत कुमार महतो पूर्वी सिंहभूम
अरुणाभा कर, पश्चिम सिंहभूम
सुशील कुमार तिवारी गढ़वा
संतोष कुमार पंडित लातेहार
तमन्ना परवीन गिरिडीह
धरनीधर प्रसाद सिन्हा कोडरमा
रेणु वर्मा बोकारो
तापेश्वर कुमार हजारीबाग
रेणु वर्मा बोकारो
तपेश्वर कुमार, हजारीबाग
डॉ.सुदेश्वर प्रसाद सिंह रामगढ़
शमीम अख्तर खूंटी
विनोद कुमार प्रमाणिक पाकुड़
गोपी प्रसाद गुप्ता साहेबगंज
शंकर कुमार पलामू
पुष्पलता जायसवाल रांची
पुष्पा कुमारी सिमडेगा
इस संबंध में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा अधिसूचना जारी की गयी है।

-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga

must read