ये है झारखंड जहां सरकार के मंत्री खुद मानहानि का मुकदमा दर्जा कराने गढ़वा सिविल कोर्ट पहुंच जाते है।लोकतांत्रिक कार्य है। कोई साहेबगिरी नही।

सच में येसी घटना गढ़वा जिले में आज उस समय घटी और अजीबोगरीब तस्वीर देखने को मिली तब जब हेमंत सोरेन सरकार के मंत्री खुद मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने गढ़वा सिविल कोर्ट पहुंच गए. 

दरअसल गढ़वा के स्थानीय विधायक सह राज्य के पेयजल एवं swachhata मंत्री मिथलेश ठाकुर ने खुद गढ़वा सिविल कोर्ट पहुंचकर बीजेपी के पूर्व विधायक सत्येन्द्रनाथ तिवारी पर मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है. 

सीएम हेमंत सोरेन की सरकार में मंत्री मिथलेश ठाकुर के खुद सिविल कोर्ट पहुंचने और मामला दर्ज कराने को लेकर वहां मौजूद लोग हैरान हो गए.

पूछने पर मंत्री मिथलेश ठाकुर ने बताया कि पूर्व विधायक ने व्यक्तिगत तौर पर मेरे एवं मेरे परिवार पर टिपण्णी की है. हमने उन्हें लीगल नोटिस भेजा था, लेकिन उसका कोई जवाब नहीं आया. हमे लगा कि वह माफी मांग लेंगे. लेकिन, उन्होंने ऐसा नहीं किया.

मिथलेश ठाकुर ने बताया कि इसलिए अंत में मैंने उनके खिलाफ मानहानि का केस दर्ज किया है. उन्होंने कहा कि यदि जब कोई लोकतंत्र की हत्या करने पर उतारू हो जाये तो क्या किया जा सकता है, लोकतंत्र में विरोध करिए प्रतिशोध मत करिए.
 

-------Advertisement-------Jharkhand Janjatiya Mahoutsav-2022
-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga
-------Advertisement-------

must read