झारखंड सरकार के मंत्री हफीजुल हसन अंसारी और प्रख्यात शिशु रोगय विशेषज्ञ डॉ अबू रेहान के हाथो अंजुमन इस्लामिया अस्पताल में आज शनिवार को डायलिसिस सेंटर का उद्घाटन किया गया। 

मंत्री हफीजुल हसन अंसारी ने कहा कि में पहली बार अंजुमन हॉस्पिटल आया हूं। देखकर अच्छा लगा। में अपने निजी फंड से डाइलेसिस के लिए 2 बेड अस्पताल को दूंगा। साथ ही कल्याण विभाग के द्वारा जो भी कार्य होगा वो करूंगा। 

मंत्री ने अंजुमन अस्पताल प्रबंधन का आभार प्रकट करते हुए कहा कि इस पिछड़े क्षेत्र में प्राथमिकता के आधार पर डायलिसिस सेंटर स्थापित करने की दिशा में पहल की। डॉक्टर अबू रेहान ने खुशी का इज़हार किया। वहीं अंजुमन इस्लामिया अस्पताल के अध्यक्ष इबरार अहमद ने बताया कि अब रांची और आसपास के लोगों को डायलिसिस सेंटर के खुलने से किडनी से सबंधित बीमारियों के इलाज की सुविधा मिलेगी।

 सेंटर के लिए जो भी मूलभूत आवश्यकता थी उसे पूरा करा दिया गया है। यहां मरीजों को कम कीमत पर इलाज की सुविधा मिलेगी। डायलिसिस सेंटर में डॉक्टर, टेक्निकल स्टाफ एवं कर्मियो की प्रतिनियुक्ति भी हो गई है। वहीं अस्पताल के एडमिन अतिकुर रहमान ने बताया कि वर्तमान में डायलिसिस सेंटर में पांच बेड की सुविधा उपलब्ध है। 

आधुनिक स्वास्थ्य उपकरण से मरीजों का इलाज किया जाएगा। शहजाद बबलू, मो नजीब ने बताया कि हमारे अस्पताल में गरीब मरिजो को जकात फनड से इलाज में सहयोग किया जाता, इस फनड में इजाफा किया गया है। कार्यक्रम से पूर्व अस्पताल प्रबंधन द्वारा मुख्य अतिथि को शॉल, मोमेंटो, पौधा दे कर स्वागत किया गया। मौके पर इबरार अहमद, अतिकुर रहमान, शहजाद बबलू, मो नजीब, गयासुद्दीन मुन्ना, डॉक्टर अहरार, हाजी नवाब, नुर आलम, जफर कमाल, इरफान उजैर, झामुमो नेता आफताब आलम, लाडले खान, परवेज आलम, नदीम अख्तर, सादिक मून आर्यन, प्रोफ़ेसर मंजर इमाम, शम्स कमर लडन, फिरोज अख्तर रैंबो, मोहम्मद शमीम, शहजाद कुरेशी, मोहम्मद खलील, परवेज अहमद मौलाना आजाद कॉलेज, जावेद अहमद, हाफिज काशिफ, सैफूलहक़, जमील गद्दी, खालिद सैफुल्लाह, बब्लू, अब्दुरजाक, मो तौकीर, डॉक्टर नफीसा हसन, सहित अस्पताल के स्टाफ और नर्सेज मौजूद थे।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read