आज सोमवार को नई सप्ताह की सूरूवात हुई है। ये सप्ताह के अंत के पहले झारखंड में बड़ी उथल पूथल होने की संभावना है। 

इसलिए की IAS पूजा सिंघल की काली कमाई और खदान पट्‌टे की जाँच और आंच अब झारखंड सरकार पर एक नए चैप्टर की सूरूवात कर सकती है। वो चैप्टर में या तो हेमंत सोरेन पूरी तरह साफ़ निकल आयें। या फिर उनपर शिकंजा कस जाए। क्यों ?

20 मई के बाद कभी भी चुनाव आयोग का फैसला CM हेमंत सोरेन की सदस्यता पर आ सकता है। फिर  17 मई को  उनके खिलाप चल रही खदान पट्‌टे और शेल कंपनियों में निवेश के आरोप मामले पर हाईकोर्ट अपना फैसला सुना सकता है।

इसलिए JharkhandStateNews के इस पेज को देखते रहें।

-----------------------------Advertisement------------------------------------

must read