राँची के व्यावसायिक वर्ग के तनाव मुक्ति जीवन हेतू चिन्मय मिशन आश्रम में ध्यानयोग कराये आचार्य मुक्तरथ एवं इनके सहयोगी रजनीश कुमार।

ओर राँची के चिन्मय मिशन आश्रम में मासिक योग सत्र के कार्यक्रम में आचार्य मुक्तरथ ने ध्यान योग साधना का अभ्यास कराया। 

आचार्य मुक्तरथ एवं इनके सहयोगी रजनीश कुमार प्रातः 6:30 से 8:00 बजे तक योग,प्राणायाम,योगनिद्रा ध्यान एवं संकीर्तन का अभ्यास कराये। सैकड़ों लोग ध्यान का अभ्यास करके तरोताजा हुए। 

चिन्मय मिशन के संयोजक वेदप्रकाश बागला जी स्वामी मुक्तरथ जी को पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किये तथा राजधानी में योग के विस्तार को लेकर चर्चा किये।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

स्वामी मुक्तरथ ने कहा योग बहुत सरल है, पर हमलोगों का आलस्य साधना में बहुत बड़ा बाधक है। ध्यान करने और कुण्डलिनी शक्ति को जागृत करने के लिए शरीर का स्वस्थ व मजबूत होना बहुत आवश्यक है। साथ ही मन का भी सबल होना जरूरी है। स्वामी मुक्तरथ जी राजधानी के विभिन्न जगहों पर एक वर्ष तक लगातार प्रति सप्ताह योग सत्र का संचालन करेंगे।

must read