झारखंड में खूंटी एसडीओ सैय्यद रियाज अहमद जिनके खिलाफ सेक्सुअल हरासमेंट की शिकायत एमपी की एक छात्रा ने खूंटी महिला थाना में शिकायत दर्ज करवाई है, ने आरोप को झूट करार दिया है।

“ आरोप पूरी तरह झूट है”, सैय्यद रियाज अहमद जो 2019 बैच के आइएस अधिकारी हैं, ने पुलिस को कहा है।

जो भी हो वह खूंटी के एसडीओ हैं। ओर सैय्यद रियाज अहमद के  खिलाफ सेक्सुअल हरासमेंट की शिकायत मध्य प्रदेश की एक छात्रा ने खूंटी महिला थाना में शिकायत दर्ज करवाई है।

शिकायत पर महिला थाना की पुलिस ने त्वरित कारवाई करते हुए पूछताछ के लिए एसडीएम सैय्यद रियाज अहमद का बयान लिया है। वे अपने ऊपर लगे गम्भीर आरोप को “झूठा आरोप” बताया है।

लेकिन महिला पुलिस थाना में सैयद रियाज अहमद (भाप्रसे) के विरुद्ध सेक्सुअल हरासमेंट का मामला खूंटी थाना में दर्ज किया गया है । 

मामला 2 जुलाई का बताया जा रहा है। खूंटी एसपी अमन कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपी एसडीएम को कस्टडी में ले लिया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।

एसपी ने बताया कि एक जुलाई की रात को एसडीओ ने आईआईटी के छात्र-छात्राओ को अपने आवास में पार्टी के लिए बुलाया था जहां सभी ने खाना पीना खाया और ड्रिंक का सेवन किया उसके बाद पीड़िता और एसडीओ कुछ देर के लिए अलग हो गए। 

दो जुलाई की सुबह लगभग छह बजे पीड़िता को किस किया और आगे बढ़ने की कोशिश करने लगे इसी दौरान पीड़िता छात्रा वहां से भाग गई और अपने साथियों के साथ एसडीओ आवास से बाहर निकल गई।

पीड़िता छात्रा एमपी की रहने वाली है और आइआइटी की छात्रा है। जिले में 20 दिनों से 20 छात्र एंव छात्राएं किसी ट्रेनिंग को लेकर खूंटी भ्रमणशील है। जानकारी के अनुसार जिला प्रशासन द्वारा ही किसी कार्यक्रम को लेकर ट्रेनिंग के लिए बुलाया है।

फिलहाल पीड़िता की शिकायत पर 14/22 कांड संख्या दर्ज किया गया है और 355(A) और 509 आईपीसी के अलावा अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है और पीड़िता का 164 बयान दर्ज करवाया जा रहा है। एसपी ने बताया कि आगे की कार्रवाई की जा रही है। गौरतलब है कि 13 जुलाई 2015 को तत्कलीन डीडीसी देवेंद्र भूषन पर तपकरा की एक नाबालिग ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। मामले पर देवेंद्र भूषण पर कार्रवाई हुई थी।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read