आज की सबसे बड़ी बात ये है की इस नीति के तहत मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन ने कुल 11 हजार 4 सौ छह चयनित उम्मीदवारों में कुछ युवाओं को सांकेतिक रूप से निजी क्षेत्र में नियुक्ति के लिए ऑफर लेटर भी सौंपा दिया.

राँची के मोरहबदी मैदान में एक बड़े पंडाल में मुख्यमंत्री ने ऑफर लेटर प्राप्त करने वाले युवक युवतियों से कहा कि जीवन में आगे बढ़ने की सकारात्मक सोच रखें । सरकारी नौकरियों के लिए होने वाली प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी करें । इस तैयारी में होने वाला खर्च सरकार वाहन करेगी । इस बाबत सरकार के द्वारा नियमावली बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

सबसे चमकती दिखाई दी चयनित उम्मीदवारों के हाथों में मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन द्वारा दिया हुवा नियुक्ति या ऑफर लेटर जिसमें उनकी ही अपनी तस्वीर लगी हुई थी.”ये एक ज़बरदस्त आत्म पदोननती को दर्शाता है.ओर वो भी सरकारी पैसे पर.लेकिन इसे क़ोन रोक सकता है सर”, एक उम्मीदवार ने कटाक्ष किया.

समारोह में सांसद श्री विजय हांसदा, राज्यसभा सांसद श्रीमती महुआ माजी, विधायक श्री इरफान अंसारी, श्री राजेश कश्यप और श्रीमती शिल्पी नेहा तिर्की, प्रभारी मुख्य सचिव श्री अरुण कुमार सिंह , मुख्यमंत्री के सचिव श्री विनय कुमार चौबे , श्रम विभाग के सचिव श्री प्रवीण कुमार टोप्पो सहित कई वरीय अधिकारी मौजूद थे।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read