झारखंड के दुमका में अंकिता सिंह की मौत के मामले में झारखंड हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया है। अदालत ने राज्य के गृह सचिव और डीजीपी को तलब किया है।

मुख्य न्यायाधीश की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस मामले से जुड़ी फाइलों के साथ डीजीपी और मुख्य सचिव को भी तलब किया है। इसके साथ ही अदालत ने पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश दिया है। 

दुमका की बेटी अंकिता को पेट्रोल डाल कर जिंदा जलाने के मामले को लेकर राज्य में अलग-अलग जगहों पर विरोध प्रदर्शन किये गये थे। अंकिता के परिजन इस मामले में इंसाफ की मांग कर रहे हैं। मामले की गहन तफ्तीश के लिए एसआईटी बनाई गई है। एसआईटी ने अंकिता के घर जाकर विभिन्न सबूत जुटाए हैं। इस मामले में पुलिस ने शाहरुख के अलावा एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read