झारखंड के दुमका में एक सरकारी स्कूल के 9वीं क्लास के स्टूडेंट्स ने अपने टीचर और स्कूल के दो स्टाफ को पेड़ से बांधा और उनकी जम के पिटाई कर दी। ये सारे स्टूडेंट्स पहरिया जनजाति के हैं।

उनका आरोप है कि उनका प्रैक्टिकल एग्जाम में कम नंबर आने की वजह से ये सभी फेल हाे गए थे।एक स्टूडेंट का कहना है 
कि टीचर ने जानबूझकर उन्हें कम नंबर दिए, जिसकी वजह से वे फेल हो गए। 

इसी बात से नाराज पहरिया छात्रों ने टीचर, क्लर्क और चपरासी को स्कूल के ही आम के पेड़ में रस्सी से बांधा और जमकर पीटा। छात्रों ने इस पूरी घटना का फेसबुक लाइव भी किया है। वीडियो सामने आने के बाद डीडीसी ने मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है।
इस मामले में सहायक शिक्षक कुमार सुमन और लिपिक सोनेराम चौड़े के लिखित आवेदन पर स्कूल के प्रिंसिपल रामदेव केसरी सहित 11 छात्रों को नामजद आरोपी बनाते हुए प्राथमिकी दर्ज की गई है।

गोपीकांदर थाने में स्टूडेंट्स द्वारा दिए आवेदन में बताया गया है कि स्कूल के प्रिंसिपल के उकसाने पर ही छात्रों ने कुमार सुमन और सोनेराम चौड़े के साथ मारपीट की।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read