आप इसे अच्छा कहे या बुरा,पिछले 20 दिन पूर्व राँची के रातू रोड मेट्रो गली के ऑपोजिट में शराब की दुकान खुली थी।आज वो बंद हो गई। क्यों? 

उस शराब दुकान से एक मंदिर की दूरी 3 मीटर है। साथ में  वही पर 5 स्कूल है।जहां हज़ारों विद्यार्थी पढ़तें है। सत्य तो ये है की श्रद्धानंद स्कूल की दूरी 7 मीटर है। गौरी दत्त मंडेलिया स्कूल की दूरी 10 मीटर।केबी गर्ल बाल मंदिर की दूरी 15 मीटर एवं भगोरिया स्कूल की दूरी 50 मीटर। 

जिस स्थान पर शराब की दुकान खुली है उस जगह दर्जनों स्कूल बस का स्टॉपेज है।दोपहर के समय महिलाएं अपने बच्चे को लेने उसी स्थान पर खड़ी होती हैं।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

हर रोज़ कई बच्चे स्कूल बस से उतरने के बाद शराब की दुकान में पहुंच जाती थी और शराब की दुकान वालों से “कॉल डील” समझकर मांगती थी।

कई दिनों से छोटे-छोटे बच्चों के गार्जियन एवं मोहल्ला वासि परेशान थे l जिस स्थान पर शराब की दुकान है प्रत्येक दिन बहुत सारे जनप्रतिनिधि उस स्थान से क्रॉस करते हैं,लेकिन किसी ने भी उसकी सुध तक लेने का काम नहीं किया।

आज युवकों का एक मशहूर संस्था राष्ट्रीय युवा शक्ति के सदस्य एवं स्थानीय लोगों ने शराब दुकान के बाहर विरोध प्रदर्शन किया l विरोध प्रदर्शन का असर ऐसा हुआ की तत्काल शराब की दुकान बंद हो गई।

इससे रातू रोड मेट्रो गली के कई लोग खुश नजर आये। लेकिन शराब दुकान के मालीक दुखित थे।

must read