हिंदू नेता कमल देव गिरी की हत्या में शामिल मुख्य आरोपी सतीश प्रधान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी यूपी के बलिया से कल रात में हुई थी।

अभी तक झारखंड पुलिस या स्थानीय प्रशासन ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। ना ही गिरी की हत्या के कारण को पुलिस ने बताया है।

तथ्य ये है की झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम के चक्रधरपुर में ‘गिरीराज सेना’ के प्रमुख सह युवा हिंदू नेता कमल देव गिरी की हत्या हुई थी।

मुख्य साजिश कर्ता सतीश प्रधान को एसआईटी ने सोमवार देर रात उत्तर प्रदेश के बलिया से गिरफ्तार किया गया। दूसरा साजिशकर्ता जाहिद अभी भी फरार है।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

मुख्य आरोपी अपने एक परिचित के साथ वहां रह रहा था। गिरफ्तारी के बाद पश्चिमी सिंहभूम पुलिस की एसआईटी ने उसे हिरासत में ले लिया।

12 नवंबर को चक्रधरपुर में भारत-भवन चौक के पास पेट्रोल बम से हिंदुत्व नेता कमलदेव गिरी की हत्या की गयी थी। हत्याकांड की जांच के लिए एसआईटी ने सोमवार को चक्रधरपुर से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया।

 मुख्य साजिश कर्ता सतीश चक्रधरपुर प्रखंड के कुरुलिया का रहने वाला है। सतीश का संबंध बांसडीह रोड इलाके की रहने वाली एक शिक्षिका से है, जो चाईबासा में तैनात है। जांच करने पर पश्चिमी सिंहभूम पुलिस को पता चला कि घटना के बाद शिक्षक से सतीश की आखिरी बातचीत हुई थी।

must read