आजादी के अमृत महोत्सव, एक भारत श्रेष्ठ भारत एवं संविधान दिवस के मौके पर आयोजित इस तरह की चित्र प्रदर्शनी से पलामू के स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में काफी कुछ जानकारी दिखाई गई है। 

प्रदर्शनी में संविधान निर्माण में पलामू की भूमिका पर भी काफी विस्तृत जानकारी दी गई है। यह चित्र प्रदर्शनी तभी सफल होगी जब इससे प्रेरणा लेकर यहां मौजूद बच्चे अपने आसपास से जानकारी जुटाकर आजादी के गुमनाम शहीदों को ढूंढ निकलें एवं उन्हें उचित मंच तक पहुंचाएं। 

आजादी के गुमनाम शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि तभी दी जाकती है, जब उन्हें गुमनामी से बाहर लाकर उनके योगदान के बारे में लोगों को बताया जाए। यह एक शानदार आयोजन है, ऐसे आयोजन और भी होने चाहिए। उक्त बातें केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री श्रीमती अन्नपूर्णा देवी ने केंद्रीय संचार ब्यूरो, डालटनगंज द्वारा आयोजित तीन दिवसीय चित्र प्रदर्शनी का अवलोकन करने के दौरान शुक्रवार को कहीं।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

इससे पहले केंद्रीय मंत्री का क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी श्री गौरव कुमार पुष्कर ने पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। इसके बाद मंत्री महोदया ने सेल्फी विथ पीएम एवं सेल्फी बूथ में फोटो भी खिंचाई। इसके उपरांत मंत्री महोदया के साथ डालटनगंज के विधायक श्री आलोक चौरसिया, पांकी के विधायक डा. शशिभूषण मेहता, मेदिनीनगर नगर निगम की महापौर श्रीमती अरुण शंकर ने संयुक्त रूप से प्रदर्शनी का अवलोकन किया एवं दीप प्रज्जवलित कर दूसरे दिन के समारोह का उद्घाटन किया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आजादी के गुमनाम नायकों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने के लिए शिक्षा मंत्रालय के द्वारा भी पहल की जा रही है। विभिन्न स्पर्द्धाओं के माध्यम से बच्चों को उनके बारे में जानकारी दी जा रही है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के बारे में बताते हुए मंत्री महोदया ने कहा कि इससे शिक्षा की पुरानी व्यवस्था में बदलाव आ रहा है। छात्रों को रुचि के अनुसार से पढ़ाई की सहूलियत हो गई है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा युवाओं के लिए शुरू की गई व्यावसायिक शिक्षा से पढ़ाई के साथ-साथ कमाई का भी मौका मिल रहा है।

इस दौरान मुख्य रूप से डालटनगंज के विधायक श्री आलोक कुमार चौरसिया, पांकी के विधायक डा. शशिभूषण मेहता, मेदिनीनगर नगर निगम की महापौर श्रीमती अरुणा शंकर उपस्थित रहीं।

भाषण एवं निबंध प्रतियोगिता के विजेताओं का सम्मान*
प्रदर्शनी के दूसरे दिन गांधी स्मृति टाउन हॉल में गिरिवर प्लस टू स्कूल के बच्चों बीच भाषण एवं निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। विजेता प्रतिभागियों को केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री के हाथों पुरस्कृत किया गया।

इस मौके पर गिरिवर प्लस टू स्कूल के प्रचार्य श्री नीरज कुमार द्विवेदी, क्षेत्रीय प्रचार सहायक श्री मनोज कुमार, तकनीकी सहायक श्री अंजनी कुमार मिश्रा, गिरिवर प्लस टू उच्च विद्यालय के शिक्षक, सर्वश्री शाहिद अख्तर, राकेश यादव, ब्रह्मदेव यादव, अनूप राकेश खलखो, नवीन पांडेय, शशिकांत, नरेश सिंह, जितेंद्र मेहता,रामजन्म पाल, सतीश कुमार, विवेकानंद,सचिन,राजेंद्र प्रसाद, अशोक सिंह, शिवजी प्रसाद , श्रीमती आकांक्षा कुमारी, स्मृति कुमारी,हेमलिन कांत, रख्शॉ रमीजा, प्रीति कुमारी मुख्य रूप से मौजूद रहे।

*प्रभात मिश्र ‘सुमन’ को एफपीओ ने किया सम्मानित*
संविधान निर्माण में पलामू की भूमिका पर जानकारी इकट्ठा करने वाले वरीय शिक्षाविद् एवं वरिष्ठ पत्रकार श्री प्रभात मिश्र सुमन को सीबीसी, डालटनगंज के क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी श्री गौरव कुमार पुष्कर ने अंगवस्त्र एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया। 

तीन दिवसीय चित्र प्रदर्शनी का समापन समारोह शनिवार को दोपहर 12 से आयोजित किया गया। समापन समारोह के मुख्य अतिथि पलामू जिले के उपायुक्त श्री आंजनेयुलु डोड्डे होंगे एवं गणमान्य अतिथि के तौर पर वरीय शिक्षा विद् श्री प्रभात सुमन मिश्रा एवं अन्य लोग मौजूद रहें।

must read