सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय अन्तर्गत पत्र सूचना कार्यालय एवं केन्द्रीय संचार ब्यूरो, राँची द्वारा आयकर विभाग, राँची एवं एसबीआई के संयुक्त तत्वावधान में भारत के G20 की अध्यक्षता पाने पर आज ‘सिग्नेचर कैम्पेन’ का आयोजन किया गया।

एसबीआई डोरण्डा शाखा के प्रांगण में आयोजित इस कैम्पेन में मुख्य आयकर आयुक्त, राँची डॉ अमरवीर सिंह इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता पीआईबी-सीबीसी राँची के अपर महानिदेशक श्री अखिल कुमार मिश्र ने की, वहीं एसबीआई, डोरण्डा शाखा की सहायक जनरल मैनेजर सविता कुमारी एवं राँची की मशहूर योग शिक्षिका तथा ‘योगा बियोंड रीलिजन’ की संस्थापक राफिया नाज़ ने विशिष्ट अतिथि के रूप में इसमें हिस्सा लिया।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

मुख्य अतिथि डॉ अमरवीर सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह बड़े हर्ष का विषय है कि सूचना प्रसारण मंत्रालय के इन विभागों द्वारा हमारे देश को जी20 की अध्यक्षता मिलने के उपलक्ष्य में इस सिग्नेचर कैम्पेन का एसबीआई के साथ मिलकर आयोजन किया है। जी20 की अध्यक्षता मिलना हमारे देश के लिए, हमारे देश वासियों के लिए एवं देश के नेतृत्व के लिए बड़े गौरव कि बात है। यह एक ऐसा अवसर है जब हमे अपने देश के शक्ति, सामर्थ एवं संस्कृति को विश्व के सामने रखने का अवसर मिलेगा। 

अपने सम्बोधन में पीआईबी सीबीसी के एडीजी श्री अखिल कुमार मिश्रा ने कहा कि यह पूरे देश के लिए बहुत ही बड़ा आयोजन होगा, जिसकी तैयारियां अभी से शुरू हो गईं हैं। ऐसे कार्यक्रम दशकों में कभी कभार ही किसी देश को आयोजित करने का सम्मान मिलता है। इस सिग्नेचर केम्पेन में जैसे भारत सरकार के तीन विभाग एक साथ काम कर रहे हैं, वैसे ही इसके सफल आयोजन हेतु सरकार के विभिन्न मंत्रालय और विभाग भी एक साथ मिलकर देशव्यापी स्तर पर कार्य कर रहे हैं और यह आयोजन पूरे विश्व के फायदे के लिए हो रहा है।   

एसबीआई, डोरण्डा शाखा की सहायक जनरल मैनेजर सविता कुमारी ने कहा कि भारत को जी20 की अध्यक्षता का मौका मिला है, यह एक बड़ा मंच है जिसमें विश्व के सभी प्रमुख देशों के अलावा यूरोपीय यूनियन भी शामिल है। यह हमारे लिए बड़ा मौका है कि हम अपने आप को दुनिया के सामने बेहतर ढंग से दिखा सके और प्रभाव छोड़ सकें। इसके लिए हमारी तरफ से इसके सफल आयोजन के लिए मेरी तरफ से शुभकामनाएँ।

मशहूर योग शिक्षिका तथा ‘योगा बियोंड रीलिजन’ की संस्थापक राफिया नाज़ ने अपना मत रखते हुए कहा कि पहली बारी जी20 की मेजबानी करने का यह जो सुअवसर भारत को मिला है, यह दर्शाता है कि हमने गुलामी की उन बेड़ियों को जो हमारे प्रगति को जकड़कर रखी थीं, उन्हे तोड़कर हम काफी आगे या चुके हैं। यह हम सभी के लिए गर्व का व्यक्त है जब भारत का परचम पूरे विश्व में लहराएगा, और हमारी एक अलग और नई पहचान सामने उभर कर आएगी।

कार्यक्रम शुरू होने पर यह कहते हुए कि नॉन अलाइन्ड मूवमेंट कि अध्यक्षता के बाद यह आयोजन दशकों में देश के लिए एक बड़ा ईवेंट है, केन्द्रीय संचार ब्यूरो, राँची के कार्यालय प्रमुख श्री शाहिद रहमान ने विषय प्रवेश कराया। इसके उपरांत सभी अतिथियों का केम्पेन में  शामिल होने के लिए धन्यवाद ज्ञापन किया। पत्र सूचना कार्यालय राँची के कार्यालय प्रमुख श्री ओंकार नाथ पाण्डेय भी इस अवसर पर मौजूद रहे। इस आयोजन में सीबीसी राँची के तकनीकी सहायक श्री सफीक आलम तथा दुल्लम पाण्डेय की भी सराहनीय भूमिका रही।

must read