रांची में 26 दिसंबर से बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम, मोरहाबादी में राज्यस्तरीय मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल प्रतियोगिता शुरू होगी। 

समापन 29 दिसंबर को होगा। इस प्रतियोगिता में चारों जोन की टीमें भाग लेंगी। प्रतियोगिता नॉकआउट कम  लीग आधार पर खेली जाएगी। 

इस प्रतियोगिता के विजेता टीम  महिला एवं पुरुष दोनों वर्ग को ₹300000 एवं उपविजेता को ₹200000,  जबकि तीसरे स्थान पर आने वाली दोनों वर्ग की टीमों को  50,000-50,000 रुपये की पुरस्कार राशि दी जायेगी। इन सभी टीमों को खेल किट भी दिए जाएंगे। यह निर्णय  खेलकूद एवं युवा कार्य निदेशालय द्वारा एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम मोरहाबादी में आयोजन समिति की बैठक में ली गई। साथ ही  इससे पूर्व किए गए कार्य की समीक्षा की गई । 

बठैक में बताया गया कि खिलाड़ियों के ठहरने एवं भोजन की व्यवस्था एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम मोरहाबादी में की जाएगी । राज्यस्तरीय मुख्यमंत्री आमंत्रण फुटबॉल प्रतियोगिता के मैच रांची के दो मैदान मोरहाबादी स्थित मंदिर मैदान एवं बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम मोरहाबादी में होंगे  ।

बैठक में जानकारी दी गई  कि मुख्यमंत्री फुटबॉल आमंत्रण  प्रतियोगिता के सफल संचालन हेतु जूरी ऑफ अपील , स्वागत एवं निबंधन उप समिति ,आवासन व्यवस्था उप समिति ,भोजन व्यवस्था उप समिति, तकनीकी उप समिति, मैदान व्यवस्था उप समिति,चिकित्सा व्यवस्था उप समिति, उद्घाटन एवं समापन समारोह समिति, टीए - डीए उप समिति, प्रचार- प्रसार एवं मीडिया उप समिति ,परिवहन उप समिति बनायी गयी है। इन सभी उप समिति के सदस्यों को उनके कर्तव्य एवं दायित्व के बारे में विस्तार से बताया गया एवं उस पर अमल करने की सलाह दी गई । इन कमेटियों के गठन से मैच का संचालन सही ढंग से संपन्न हो सकेगा। 

बैठक में मुख्य रूप से श्री देव शंकर दास अवर सचिव खेलकूद एवं युवा कार्य निदेशालय , मनोहर टोपनो पूर्व हॉकी ओलंपियन ,देवेंद्र कुमार सिंह खेल परामर्शी साझा, संजीत कुमार जिला खेल पदाधिकारी, रांची उपायुक्त के प्रतिनिधि कार्यपालक दंडाधिकारी संजय कुमार, पुलिस अधीक्षक द्वारा मनोनीत सदस्य भारतीय खेल प्राधिकरण के प्रतिनिधि  विनोद कुमार सिंह, झारखंड ओलंपिक संघ के प्रतिनिधि शिवेंद्र दुबे, रांची जिला फुटबॉल रेफरी संघ के प्रतिनिधि सरोज कुमार महतो एवं मंगल मिंज के अलावा कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read