मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज कॉन्स्टेबल ट्रेनिंग सेंटर (सीटीसी में आईआरबी 1-5 के पारण परेड (पासिंग आउट परेड) में प्रशिक्षु आरक्षियों की हौसला अफजाई करते हुए आकर्षक परेड का निरीक्षण किया और  सलामी ली ।

*प्रशिक्षु आरक्षियों ने ईमानदारी और निष्ठा के साथ दायित्व एवं कर्तव्य निर्वाहन की ली शपथ* 

मुख्यमंत्री की उपस्थिति में प्रशिक्षु आरक्षियों ने देश और राज्य सेवा का संकल्प तथा अपने दायित्व एवं कर्तव्यों का पूरी ईमानदारी, निष्ठा, परिश्रम, हर्ष और नम्रता के साथ करने की शपथ ली। मुख्यमंत्री ने सभी प्रशिक्षु आरक्षियों को जिंदगी की नई शुरुआत के लिए शुभकामनाएं दी।

*_बेहतर से बेहतर प्रशिक्षण की व्यवस्था हो_* 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज तरह-तरह के हो रहे अपराध से निपटने की बड़ी चुनौती पुलिस के सामने है।  ऐसे में पुलिसकर्मियों को अत्याधुनिक तकनीकों के साथ-साथ बेहतर से बेहतर प्रशिक्षण मिले, इस पर सरकार का विशेष जोर है, ताकि सामान्य अपराधों के साथ साइबर अपराध और आर्थिक अपराध से जुड़े अपराधियों को मुंहतोड़ जवाब दे सकें। आपकी सेवा राज्य और जन-जन की सुरक्षा तथा विधि व्यवस्था के अलावा चुनाव समेत कई अन्य कार्यों में ली जाती है। ऐसे में आप अपनी कार्यों को बेहतर तरीके से अंजाम दे सकें, इसमें आपका प्रशिक्षण काफी कारगर
साबित होगा।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

*_इस ट्रेनिंग सेंटर को देश के बेहतरीन ट्रेनिंग सेंटर बनाने की कार्य योजना बनाएं_* 

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांस्टेबल ट्रेनिंग सेंटर, मुसाबनी को जीवंत बनाए रखने की कार्य योजना अधिकारी तैयार करें। इसमें प्रशिक्षण के साथ अन्य क्षेत्रों में इसके इस्तेमाल किए जाने की संभावनाओं को  तलाशें, ताकि इसे देश के बेहतरीन प्रशिक्षण केंद्र के रूप में शामिल  किया जा सके।

*_आपकी उपस्थिति से आम जनता को  बल मिले_* 

गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का ने प्रशिक्षु आरक्षियों से कहा कि राज्य एवं जनहित में आप अपना योगदान दें। लोगों के जीवन में अमन- चैन कायम करने के लिए अपनी दक्षता को बढ़ाते हुए कार्य करें। राज्य के कमजोर और गरीब लोगों के लिए आप ढाल बनें। आपकी उपस्थिति से आम जनता को  बल मिले।

*_प्रशिक्षण का इस्तेमाल अपने कार्यों में करें_* 

डीजीपी  श्री नीरज सिन्हा ने प्रशिक्षु आरक्षियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के बदलते दौर में अपराधी नित्य नए तरीकों से अपराध को बढावा दे रहें है। इनसे लोगों के बचाव के लिए आप अपने स्किल को अपडेट करते रहें। मुसाबनी के इस प्रशिक्षण केंद्र में आप सबों को फिजिकल ट्रेनिंग के साथ-साथ  विभिन्न विषयों में भी शिक्षा प्रदान की गयी है, इन सभी प्रशिक्षणों का आप अपने कार्य में कुशलता से इस्तेमाल करें।

*_764 प्रशिक्षु आरक्षी हुए प्रशिक्षित*_ 

 2019-20 सत्र के आई.आर.बी 1 से 5  के  764 प्रशिक्षु आरक्षियों ने सी.टी.सी. स्वास्पुर, मुसाबनी प्रशिक्षण संस्थान से अपना प्रशिक्षण पूर्ण किया। जिसमें आई.आर.बी 1 (जामताड़ा) के 345, आई.आर.बी 2(मुसाबनी) के 101, आई.आर.बी 3(चतरा) के 113, आई.आर.बी 4(लातेहार) के 113, आई.आर.बी 5(गुमला) के 92 प्रशिक्षु आरक्षियों ने भाग लिया। इनमे  260 महिला  प्रशिक्षु आरक्षी एवं 504 पुरुष प्रशिक्षु आरक्षी शामिल है।

 *_कार्यक्रम के कुछ खास लम्हे_*
 

◆ मुख्यमंत्री ने अमर जवान शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की एवं प्रशिक्षण संस्थान के परिसर में पौधरोपण  किया। 

◆ मुख्यमंत्री ने यहां प्रशिक्षण प्राप्त करनेवाले पहले बैच के सर्वश्रेष्ठ कैडेट के रूप में चंदन पाण्डेय और अंजली टोप्पो को सम्मानित किया।

◆  मुख्यमंत्री को प्रशिक्षु आरक्षी रागिनी कुमारी ने मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन की खुद से बनाई पेंटिंग भेंट की।

◆ मुख्यमंत्री ने मुसाबनी के आंगनबाड़ी के बच्चों को खेल के लिए प्रोत्साहित करने हेतु ट्रैकसूट, कैप, फूटबॉल प्रदान किया।

● सामुदायिक पुलिसिंग के तहत  ग्रामीण खिलाड़ियों को  सम्मानित किया।
  
*उपस्थिति*

इस अवसर पर  घाटशिला विधायक श्री राम दास सोरेन, प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का, डी.जी.पी  श्री नीरज सिन्हा, डी.जी.पी. ट्रेनिंग श्री अनुराग गुप्ता, आई.जी. ट्रेनिंग श्रीमती प्रिया दुबे,   आईजी ऑपरेशन श्री अमोल विणुकान्त होमकर, पूर्वी सिंहभूम के उपयुक्त, पुलिस विभाग के पदाधिकारी, सी.टी.सी. स्वासपुर मुसाबनी प्रशिक्षण संस्थान के प्रशिक्षक, पदाधिकारी, आई.आर.बी- 1, 2, 3, 4 एवं 5 के प्रशिक्षु आरक्षी एवं उनके परिजन उपस्थित रहे।

must read