*File photo

झारखंड के मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज पलामू के लेस्लीगंज स्थित जैप- 8 वाहिनी परिसर में इंडिया रिजर्व बटालियन-10 (आईआरबी) के पारण परेड समारोह में भाग लिया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रशिक्षु आरक्षियों के आकर्षक परेड का निरीक्षण किया और सलामी ली।यहां 554 प्रशिक्षु आरक्षण में 182 महिला आरक्षी हैं।वहीं, मुसाबनी के कॉन्स्टेबल प्रशिक्षण सेंटर में सफलतापूर्वक प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले 764 प्रशिक्षणार्थियों में 260 महिलाएं शामिल हैं। इस तरह दोनों ही प्रशिक्षण केंद्रों में 442 महिला प्रशिक्षु आरक्षी इस बात का प्रतीक है कि महिलाएं अब पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने को पूरी तरह तैयार है।

 इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आपने यहां जो प्रशिक्षण प्राप्त किया है , अब आम जिंदगी में भी ऐसा ही प्रशिक्षण लें। अपनी जिम्मेदारियों के निर्वहन के दौरान आप आम लोगों के बीच अपनी पहचान बनाए और उनका विश्वास जीतें। इससे समस्याओं और चुनौतियों का समाधान करना आपके लिए आसान हो जाएगा।

मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सह गृह सचिव श्री राजीव अरुण एक्का ने  जवानों के उज्जवल भविष्य की कामना की और उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि जवान अपनी जिम्मेदारी के साथ कानून एवं नियमों के पालन तथा अनुपालन कराने के लिए अग्रणी पंक्ति में खड़े रहें। जवानों को प्रशिक्षण देकर सभी कार्यों के लिए दक्ष बनाया गया है,  ताकि वे समय और परिस्थितियों के साथ तेजी से कार्य करेंगे। उन्होंने कहा  कि  समाज के कमजोर, आदिवासी, दलित, पिछड़े वर्ग के लोगों के सहयोग एवं मदद के लिए आगे रहें। उन्होंने कहा कि वर्दी का रंग ऐसा रखें, जिससे लोगों को सहयोग मिले और उनका हौसला बुलंद रहे।

*34.5 एकड़ में फैला है परिसर* 

पुलिस महानिरीक्षक श्री नीरज सिन्हा ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण के कारण जवानों के प्रशिक्षण में व्यवधान हुआ, लेकिन अब वे पूरी मुस्तैदी के साथ झारखंड पुलिस बल में शामिल हो रहे हैं। उन्होंने प्रशिक्षण केंद्र के संबंध में अवगत कराते हुए कहा कि इस वाहिनी का सृजन 34.50 एकड़ में  है।  इस वाहिनी में प्रशिक्षण देने का कार्य  वर्ष 2012 से प्रथम सत्र एवं 2012-13 में द्वितीय सत्र तथा 2017-18 में तृतीय सत्र के जवानों को बुनियादी प्रशिक्षण के अलावा 2018-19 तक जैप/ आईआरबी संवर्ग के 10 वर्ष सेवा पूर्ण करने वाले आरक्षियों का एसपीसी प्रशिक्षण दी गई, जो आज राज्य के विभिन्न जिला, इकाइयों, वाहिनीयों में अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रहे हैं।

*खिलाड़ियों को मिली खेल सामग्री* 

मुख्यमंत्री ने पलामू के युवा खिलाड़ियों को सामुदायिक पुलिसिंग के तहत प्रोत्साहन के तौर पर खेल सामग्री प्रदान कर पुरस्कृत किया। उन्होंने प्रत्येक टीम को फुटबॉल, जर्सी, जूता, इनक्लेट, ग्लब्स आदि खेल सामग्री दी।

 *मुख्यमंत्री ने दिलाया यह भरोसा* 

 ● जैप-  8 वाहिनी परिसर' लेस्लीगंज  का जीर्णोद्धार किया जाएगा । यहां की समस्याओं के संबंध में जो जानकारियां मिली हैं, उसके समाधान के लिए जल्दी सरकार ठोस निर्णय लेगी।

● जैप-  8 वाहिनी परिसर' लेस्लीगंज में 250 बिस्तर की  क्षमता वाले 3 नए बैरक बनाए जाएंगे। यहां पेयजल के लिए टंकी समेत अन्य व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने की मुख्यमंत्री ने घोषणा की । इसके अलावा परिसर की बाउंड्री वॉल भी बनाई जाएगी।

● प्रशिक्षु आरक्षियों को प्रशिक्षण भत्ता देने के विषय पर भी सरकार जल्द  सकारात्मक निर्णय लेगी। 

 *समारोह की कुछ खास खासियतें*

● मुख्यमंत्री ने श्रेष्ठ महिला प्रशिक्षु और श्रेष्ठ परेड कमांडर ममता कुमारी और
श्रेष्ठ पुरुष आरक्षी सह श्रेष्ठ धावक के रूप में मिथिलेश कुमार को सम्मानित किया।

● श्रेष्ठ धावक (महिला) प्रभा लकड़ा' श्रेष्ठ प्रशिक्षु राजेंद्र उरांव, अनुदेशक कमलेश दुबे और श्रेष्ठ टीआई ज्योतिन गोराई भी मुख्यमंत्री के द्वारा सम्मानित किए गए।

● मुख्यमंत्री ने पांडु और नावा बाजार थाना भवन  का ऑनलाइन उद्घाटन किया।

● मुख्यमंत्री ने वाहिनी परिसर में पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।

 *इस अवसर पर पांकी विधायक श्री कुशवाहा शशि भूषण मेहता, मनिका विधायक श्री रामचन्द सिंह,  गृह कार्य एवं आपदा प्रबंधन विभाग तथा मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का, पुलिस महानिदेशक श्री नीरज सिन्हा, पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण) श्री अनुराग गुप्ता, पुलिस महानिरीक्षक (प्रशिक्षण) श्रीमती प्रिया दुबे, क्षेत्रीय पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री राजकुमार लकड़ा और जिले के उपायुक्त श्री आंजनेयुलू दोड्डे, पुलिस अधीक्षक श्री चंदन कुमार सिन्हा समेत कई अन्य पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read