आजादी के अमृत महोत्सव, फीट इंडिया जागरूकता अभियान के तहत सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार के केन्द्रीय संचार ब्यूरो गुमला/ रांची द्वारा कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय घाटशिला के प्रांगण में आज एक जागरूकता समारोह के साथ-साथ पद्मश्री डॉक्टर जानुम सिंह सोय को पद्मश्री पुरस्कार से अलंकृत किए जाने पर उनके सम्मान में  अभिनन्दन कार्यालय भी आयोजित किया गया।

केंद्रीय संचार ब्यूरो द्वारा उन्हें शाल व पौधा प्रस्तुत किया गया।
कस्तूरबा गांधी विद्यालय के छात्रों द्वारा पास और लकड़ी से निर्मित भगवान बिरसा मुंडा की एक सुंदर प्रतिमा भी पद्मश्री डॉक्टर 
 जानुम सिंह सोय को पेश किया गया।

इस अवसर पर बोलते हुए डॉ ‍ जानुम सिंह सोय ने कहा कि पद्मश्री पुरस्कार मिलना एक सपने जैसा है, लेकिन उन्होंने पद्मश्री पुरस्कार का सपना भी नहीं देखा था। और‌‌ वे इस पुरस्कार को पाकर अभिभूत हैं।

डा. सोय ने कार्यक्रम के दौरान उनके द्वारा लिखे गए गीतों को भी गाया।वे इस बात का भी आह्वान किया कि आज की युवा पीढ़ी शिक्षा एवं पर्यावरण संरक्षण विशेष ध्यान देकर पृथ्वी को रहने लायक एक सुंदर जगह बनाने का प्रयास करें।

इस अवसर पर रांची से आए हुए श्री अक्षय कुमार सिंह , आईएएस, 
संयुक्त सचिव, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग  ,झारखंड‌ सरकार ने कहा कि झारखंड के लिए यह बड़े गर्व का विषय है यहां घाटशिला से डा. सोय जैसे विद्वान को इस महत्वपूर्ण पुरस्कार के लिए चयनित किया गया।

हम सबकी जिम्मेदारी है कि हम डा. सोय के जीवन और उनकी उपलब्धियों के बारे में जानें और प्रेरणा लें।

सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय संचार ब्यूरो,  रांची के कार्यालय प्रमुख शाहिद रहमान ने कहा कि डा. सोय कि इस उपलब्धि पर हम सभी झारखंड-वासी गर्वानवित महसूस कर रहे हैं।

शाहिद रहमान ने भी पर्यावरण के संरक्षण का आह्वान किया और कहा कि मनुष्य प्रजाति ने  हवा , पानी और धरती को प्रदूषित करने के साथ-साथ अंतरिक्ष में भी हजारों सेटेलाइट्स छोड़कर अंतरिक्ष  को भी प्रदुषित करने का काम किया है। विकास के साथ-साथ पर्यावरण-संतुलन बनाए रखना भी हमारा कर्तव्य है। टिकाऊ विकास ही एकमात्र उपाय है।

महिला सशक्तिकरण पर कस्तूरबा गांधी घाटशिला की बच्चियों द्वारा एक अति सुंदर नाटक भी प्रस्तुत किया गया।

भाषण प्रतियोगिता इत्यादि के सफल प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया।

कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए केंद्रीय संचार ब्यूरो के तकनीकी सहायक अधिकारी श्री अंजनी कुमार मिश्रा ने लगातार प्रयास किया।
श्री अंजनी मिश्रा ने सभी अतिथियों को कस्तूरबा गांधी विद्यालय के प्रांगण में आमन्त्रित किया और सफल कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार करने में अहम भूमिका निभाई।

साथ ही साथ  श्रीमती निर्मला कुमारी ,
जिला शिक्षा पदाधिकारी, घाटशिला,
श्री सूर्य देव महाराज , महामिलन  आश्रम ,  घाटशिला; 
श्री सुभाष सिंह जिला परिषद सदस्य, घाटशिला; श्री लालमोहन शाह , मुखिया,  उलदा ; श्रीमती ललिता कर्मकार, अध्यक्ष , अध्यक्ष कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय,  घाटशीला इत्यादि ने भी अपनी गरिमामई उपस्थिति  उपस्थिति से समारोह का शान बढ़ाया।

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय , घाटशीला के समस्त टीचिंग व नान-टीचिंग स्टाफ, छात्राओं और विशेषकर वार्डन मैडम लिपिका शाह ने कार्यक्रम को सफल बनाने में पूरा सहयोग दिया।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read