झारखण्ड पुलिस बल के अच्छे सेहत और खुशनुमा जीवन के लिए आज एम-वे चिक्की फाउंडेशन के द्वारा जैप-10 पुलिस बटालियन राँची में एक बृहत वर्कशॉप का आयोजन किया गया।

वर्कशॉप में आरक्षी महानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा, कमाडेंट धनंजय कुमार सिंह, फाउंडेशन के एस के सिंह, रौशन राहुलेश, मैडम श्रेयम, और स्वामी मुक्तरथ उपस्थित थे। सबों ने स्वाथ्य रक्षा पर अपने-अपने विचार रखे। 

आईजी अखिलेश झा ने पुलिस बल की समस्या से रूबरू होते हुए कहा कि मैं जानता हूँ आप की हर परिस्थितियों को लेकिन उन्हीं परिस्थितियों में आपको नियमित योग औऱ मेडिटेशन करना चाहिए ताकि आप बीमारियों को रोक सकें, आप का मन खुश रहे। 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

स्वामी मुक्तरथ ने कहा केवल शरीर के व्यायाम से बीमारियों को नहीं रोका जा सकता है जब तक कि मन को रिलैक्स करने का तकनीक नहीं अपनाया जाये। मन-मस्तिष्क को तरोताजा रखने  के लिये नियमित प्राणायाम और मेडिटेशन को लाइफ में अपनाना होगा। बेहतर जिन्दगी के लिए योग के अभ्यास,संगीत व संकीर्तन तथा ध्यान को करना आवश्यक है।

योग में ऐसे तकनीक हैं जो शरीर को साफ करने के साथ मन को भी साफ कर देता है। जिससे क्लेश का नाश होता है। सभी पुलिस बल और पुलिस अधिकारियों को मुक्तरथ जी ने शारिरिक सफाई के लिए योगासन और मन के तनाव को समाप्त करने हेतू ध्यान का अभ्यास कराये।

पुलिस महानिरीक्षक अखिलेश झा ने स्वामी मुक्तरथ के प्रति आभार व्यक्त किये और कमांडेंड धनंजय सिंह को बृहत योग सत्र कराने का आदेश भी दिये।

must read