लाइट हाउस परियोजना के तहत लाभुकों पर आर्थिक बोझ ज्यादा नहीं पड़े, इसके लिए केंद्र सरकार से हिस्सेदारी बढ़ाने का मुख्यमंत्री ने किया आग्रह.

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज झारखंड के रांची समेत देश के छह शहरों में लाइट हाउस परियोजना का ऑनलाइन शिलान्यास किया. इस मौके पर राजधानी रांची के एचईसी, सेक्टर वन मार्केट के पास स्थित फुटबॉल मैदान में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन शामिल हुए. 

मुख्यमंत्री ने नववर्ष और आधुनिक तकनीक और इनोवेटिव प्रॉसेस से बनाए जाने वाले आवास के लिए प्रधानमंत्री को शुभकामनाएं एवं बधाई दी. मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री ने जिस सोच और दूरदर्शिता के साथ आवास निर्माण के क्षेत्र में गति लाने के लिए यह योजना शुरू की है , उसका लाभ शहरों में रहनेवाले गरीबों-मजदूरों और बेघरों को मिलेगा.


मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि रांची में लाइट हाउस परियोजना के अंतर्गत 1008 आवास बनाए जाने हैं. इस परियोजना में केंद्र सरकार और राज्य सरकार के साथ लाभुकों को भी हिस्सेदारी देनी है. लेकिन, झारखंड पिछड़ा राज्य है. यहां गरीबों और मजदूरों की बड़ी आबादी है. 

इनकी आय़ कम है. ऐसे में गरीबों-मजदूरों के लिए योजना में जो हिस्सेदारी तय की गई है, उसे देना उनके लिए बहुत आसान नहीं है. मुख्यमंत्री ने गरीबों और मजदूरों के आर्थिक हालात को देखते हुए प्रधानमंत्री से इस योजना में केंद्र सरकार की हिस्सेदारी बढ़ाने का आग्रह किया, ताकि उनपर ज्यादा आर्थिक बोझ नहीं पड़ सके.

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read