गत 14 सितंबर हिंदी दिवस से चालू हिंदी पखवाड़ा के तहत प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो, रांची कार्यालय में आज दिनांक 29 सितंबर 2021 को हिंदी कार्यशाला एवं संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर पत्र सूचना कार्यालय तथा प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो, रांची के अपर महानिदेशक श्री अरिमर्दन सिंह के अलावा दो सम्मानित सदस्यों को आमंत्रित किया गया। आकाशवाणी रांची के पूर्व उपनिदेशक श्री नीरज नाथ पाठक एवं हिंदुस्तान समाचार पत्र के पूर्व राजनीतिक संपादक श्री चंदन कुमार मिश्र उपस्थित रहे।

कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए अपर महानिदेशक श्री अरिमर्दन सिंह ने कहा कि भारत सरकार राजभाषा के रूप में हिंदी के अधिकाधिक उपयोग के लिए हमेशा तत्पर रहती है। विभागीय कर्मचारियों को भी खास करके हिंदी क्षेत्र में काम करने वालों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वह अपना काम-काज हिंदी में ही करें।

अपने संबोधन में वरिष्ठ पत्रकार श्री चंदन कुमार मिश्र ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों को अपने पत्राचार में सरल शब्दों का ही प्रयोग करना चाहिए ताकि आम लोग आसानी से उसे समझ सके, साथ ही लिखते वक्त छोटे वाक्यों का प्रयोग करना चाहिए ताकि कोई भी बात सरलता से और स्पष्टता से समझाई जा सके।

वहीं आकाशवाणी रांची के पूर्व उप निदेशक श्री नीरज नाथ पाठक ने कहा कि हमें अपनी भाषा की शुद्धता पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अगर हम शुद्ध और सरल शब्दों में बातचीत करेंगे तो उसका असर आम लोगों पर लंबे समय तक रहता है। उन्होंने कहा कि बोलने की भाषा चूंकि दिल से निकलती है, इसलिए इसका असर जनमानस पर कहीं ज्यादा होता है। हमें अपनी बात रखते समय स्पष्टता और शुद्धता पर जरूर ध्यान देना चाहिए।

कार्यक्रम का संचालन कार्यालय प्रमुख श्री शाहिद रहमान ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी श्री गौरव पुष्कर ने किया। इस दौरान क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी श्री ओंकार नाथ पाण्डेय, आकाशवाणी के समाचार एकांश के प्रमुख श्री अब्दुल हामिद, दूरदर्शन समाचार एकांश के प्रमुख श्री दिवाकर कुमार, आकाशवाणी की संवाददाता सुश्री शिल्पी, सहित प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो एवं पत्र सूचना कार्यालय रांची के कर्मचारी मौजूद रहे।
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read