रांची समेत झारखंड के विभिन्न जिलों में सुबह से ही बारिश हो रही है। कई जिलों में आसमान में बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिनों तक मौसम ऐसे ही रहने का अनुमान है।

ये है बेमौसम की इस बारिश।इससे धान की तैयार फसल को बड़ा नुकसान हुआ है। कई खेतों में कटाई की फसल रखी हुई है जो पूरी तरह से जलमग्न हो गई है। किसानों को जहां अपनी फसलों को लेकर चिंता हो रही है, वहीं मौसम की उठा पटक ने किसानों की नींद उड़ा दी है। वहीं मौसम में आ रहे बदलाव के चलते सब्जी की फसल की औसत पैदावार प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकेगी।

मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र आंध्र प्रदेश के तट पर पहुंच गया है। इसका असर अगले तीन दिनों तक झारखंड में भी देखने को मिलेगा।

रांची, खूंटी, रामगढ़, हजारीबाग, बोकारो, गुमला, सरायकेला-खरसावां, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम और सिमडेगा में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की होने संभावना है। अभिषेक आनंद ने बताया कि बारिश के बाद 16 नवंबर से राज्य में ठंड बढ़ेगी।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read