मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को लीज आवंटित करने और उनके करीबियों द्वारा शेल कंपनियों में निवेश मामले की जांच को लेकर दाखिल जनहित याचिका पर शुक्रवार को झारखंड हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। 

यह मामला चीफ जस्टिस डा रवि रंजन व जस्टिस एसएन प्रसाद की खंडपीठ में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध था। 

शेल कंपनी मामले में अदालत ने विधायक बसंत सोरेन और रवि केजरीवाल को नोटिस किया है। अदालत ने उपायुक्त के जरिए नोटिस भेजने का निर्देश दिया है। मामले में अगली सुनवाई 22 जुलाई को होगी।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read