Representational Pic


क्या आप चाउमिन खाते हैं? अगर नही भी खाते हैं, तो कृपया ये जैन लीजिए की एक प्रतिष्ठान में चाउमिन को बनाकर जमीन पर रखकर बेहद अनहाइजीनिक तरीके से पैक कर बाज़ार में बेचते हैं,

ये हवा बाज़ी नही, सत्य है.देवघर में आरके ट्रेडर्स में छापामारी के क्रम में फूड सेफ्टी टीम के द्वारा पाया गया कि प्रतिष्ठान में किसी भी प्रकार की फूड सेफ्टी गुणवत्ता व साफ-सफाई के किसी मानक का अनुपालन नहीं किया जा रहा है. 

इसके साथ ही टीम ने निरीक्षण में पाया कि इस प्रतिष्ठान में चाउमिन को बनाकर जमीन पर रखकर बेहद अनहाइजीनिक तरीके से पैक किया जा रहा था. इसे टीम ने काफी गंभीरता से लिया और कार्रवाई की.

दूसरा केस भी देवघर का ही है. यहाँ एक कम्पनी नकली सॉस बनाती थी अपने फैक्ट्री में. इसका भी भंडाफोड़ हुआ है. खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी दिनेश मरांडी के नेतृत्व में देवघर जिले के मोहनपुर प्रखंड के हिरनाटांड़ आरके ट्रेडर्स के मालिक रमेश कुमार की फैक्ट्री में छापामारी की गयी. 

इस दौरान विभिन्न प्रकार के सॉस (टोमैटो, चीली) बनाये जा रहे थे. इसमें कलर समेत कई अन्य तरह की मिलावट की जा रही थी. टोमैटो व चिली सॉस के नाम पर आलू व कलर मिलाकर लोगों को बेचा व खिलाया जा रहा था. इस प्रतिष्ठान पर खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी ने कुल 80 हजार रुपये का जुर्माना लगाया.

आरके ट्रेडर्स में टीम ने छापामारी के क्रम में कई लापरवाही देखी. इसके बाद खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी ने 60 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया व बगैर खाद्य लाइसेंस के व्यापार करने पर 20 हजार रुपये का जुर्माना लगाया. इस दौरान कुल आरके ट्रेडर्स पर कुल 80 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया. फूड सेफ्टी टीम ने कोठिया बस स्टैंड के इलाके में भी छापामारी अभियान चलाया. टीम में खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी अमित कुमार, पवन कुमार, जितेंद्र कुमार दुबे आदि थे.

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read