मुख्यमंत्री का नाम लेकर अधिकारियों को मदद के लिए धमकाता था। अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में 19 जुलाई को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को गिरफ्तार किया था।

इस गिरफ्तारी के बाद से ही कयास लगाये जा रहे थे कि मुख्यमंत्री भी जांच के घेरे में आयेंगे। पंकज मिश्रा पर अवैध खनन के जरिए 42 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगा है। ईडी ने बताया था कि राज्य में 1000 करोड़ रुपए से भी अधिक का अवैध खनन हुआ है, इस मामले में कई बड़े अधिकारी शामिल हैं।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी ) की ओर से हिनू एयरपोर्ट रोड स्थित अपने ऑफिस की सुरक्षा बढ़ाने के लिए पुलिस मुख्यालय से अतिरिक्त बलों की मांग की गई है। ईडी ने डीजीपी नीरज सिन्हा को इस बारे में पत्र भी भेजा है। पत्र की कॉपी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल को भी दी गयी है। डीजीपी नीरज सिन्हा ने ईडी दफ्तर की सुरक्षा के लिए चिट्टी मिलने की बात मानी है।

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

must read