मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन आज सपरिवार शक्तिपीठ रजरप्पा स्थित माँ छिन्नमस्तिका मंदिर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने यहां अपने परिजनों के साथ माँ छिन्नमस्तिका की विधिवत पूजा-अर्चना की। 

रजरप्पा स्थित माँ छिन्नमस्तिका मंदिर में पूजा करने के पहले, श्री सोरेन देवघर में बैद्यनाथ धाम मंदिर में 16 दिसंबर को पूजा कर चुके हैं। उनका पूजा यात्रा महत्वपूर्ण इसलिए भी है की इडी उनके खिलाप भ्रष्टाचरण के मामले में जाँच में जुटी हुई है। और उनके करीबी पंकज मिश्रा मनी लोनड्यूरिंग केस में जेल मे है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के पिता पूर्व मुख्यमंत्री तथा वर्तमान राज्यसभा सांसद दिशोम गुरु श्री शिबू सोरेन, माता श्रीमती रूपी सोरेन, धर्मपत्नी श्रीमती कल्पना सोरेन, विधायक श्रीमती सीता सोरेन सहित अन्य परिजनों ने भी माँ छिन्नमस्तिका की विधिवत आराधना की।

मौके पर प्रेस-मीडिया के प्रतिनिधियों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि सिद्धपीठ रजरप्पा की पावन भूमि हमारे गृह जिला रामगढ़ में स्थित है। यह मेरा जन्मस्थली भी है। आज मैं यहां सपरिवार माँ छिन्नमस्तिका की चरणों में मत्था टेकने आया हूं। 

माता रानी की कृपा और आशीर्वाद सदैव हमारे परिवार पर रही है। नए वर्ष 2023 की शुरुआत हो चुकी है। मैं आज यहां माँ छिन्नमस्तिका से राज्य वासियों के जीवन में सुख, शांति, समृद्धि, अमन-चैन और खुशहाली आए, इसकी प्रार्थना की है। मौके पर मुख्यमंत्री ने सभी को नए साल की बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। मौके पर जिला प्रशासन रामगढ़ द्वारा मुख्यमंत्री को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

इस अवसर पर रामगढ़ उपायुक्त सुश्री माधुरी मिश्रा, पुलिस अधीक्षक रामगढ़ श्री पीयूष पांडेय, उप विकास आयुक्त श्री नागेंद्र कुमार सिन्हा, अनुमंडल पदाधिकारी श्री मोहम्मद जावेद हुसैन सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

रजरप्पा स्थित माँ छिन्नमस्तिका मंदिर में पूजा करने के पहले, श्री सोरेन देवघर में बैद्यनाथ धाम मंदिर में 16 दिसंबर को पूजा कर चुके हैं। 

must read