करीब 80 बाराती कोनपाला से शादी में शामिल होने के बाद छुरिया जा रहे थे

ठेठईटांगर थाना क्षेत्र के जपलंगा के पास एक जंगली हाथी ने बाराती वाहनों पर हमला कर दिया। इस दौरान गाड़ियों में बैठे करीब 80 लोगों ने किसी तरह जंगल में छिपकर अपनी जान बचाई। आस पास ग्रामीणों ने मौके पर पहुंच हाथी को वहां से भगाया, तब बाराती जंगल से बाहर निकले। घटना सोमवार की देर शाम की है। इस दौरान हाथी ने 6 वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया।

दरअसल, 7 गाड़ियों से बाराती कोनपाला से शादी में शामिल होने के बाद छुरिया लौट रहे थे। इसी दौरान जपलंगा के पास उनका सामना हाथी से हो गया। हाथी को रास्ते के बीच देख कतार में चल रही गाड़ियां रुक गई। तभी उस पर सवार लोग आनन-फानन मेंबाहर निकले और तेजी से पास के जंगल की ओर भागे। इसी बीच हाथी गाड़ियों के पास पहुंचा और उन्हें सूंड से हिलाकर क्षतिग्रस्त कर दिया।

इधर, घटना की सूचना मिलते ही ठेठईटागंर थाना प्रभारी कुमार इंद्रेश घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने सभी वाहनों को एक जगह रखवाया। उन्होंने बताया कि किसी बाराती को चोट नहीं आई है। बताते चलें कि बीते कुछ दिनों से जंगली हाथियों का झुंड इस क्षेत्र में घूम रहा है। इससे आसपास के लोग दहशत में हैं। इसी झुंड से बिछड़ एक हाथी ने बाराती गाड़ी पर हमला किया। इधर, वन विभाग की टीम मंगलवार सुबह जपलंगा पहुंची है.
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read