मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन से आज रूपा तिर्की की माता श्रीमती पद्मावती उरांव, पिता श्री देवानंद तिर्की और विधायक बंधु तिर्की के साथ एक प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों में मुख्यमंत्री से कहा कि उन्हें आशंका है कि सब इंस्पेक्टर रूपा तिर्की ने आत्महत्या नहीं की है, बल्कि उसकी हत्या हुई है । 

 उन्होंने इस मामले में अब तक की जांच से असंतुष्टि जताते हुए मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए और जो भी दोषी पाए जाएं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए, ताकि न्याय मिल सके।

*मुख्यमंत्री ने कहा- हर हाल में न्याय मिलेगा*

मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि रूपा तिर्की उनकी बहन के समान थी। आदिवासी समाज की एक बेहतर महिला पुलिस पदाधिकारी की मौत से मर्माहत हूं । उन्होंने रूपा के माता- पिता और प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि उन्हें न्याय मिलेगा । 

 मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे मामले की निष्पक्ष और विस्तृत जांच हो, इस बाबत एक सदस्यीय जांच आयोग का गठन किया गया है। झारखंड उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश श्री विनोद कुमार गुप्ता इस पूरे मामले की विस्तृत जांच कर अपनी रिपोर्ट समर्पित करेंगे । इसमें जिस किसी की भी संलिप्तता होगी या दोषी पाए जाएंगे , उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा । उनके खिलाफ खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी । रूपा तिर्की मौत मामले में हर हाल में इंसाफ होगा ।

मुख्यमंत्री से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में श्री रवि तिग्गा, श्री अमर उरांव, श्री नारायण उरांव, श्रीमती शांति उरांव, श्रीमती मुंडरेशी मुंडा, श्री शिवा कच्छप, श्री अमर उरांव और श्री सुमित उरांव शामिल थे।

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read