*image credit IPRD, Jharkhand

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने आज एक उच्चस्तरीय बैठक कर झारखण्ड में विश्वस्तरीय सब्जी आधारित उद्योग लगाए जाने पर बल दिया। 

लंदन की डी एम केपिटल लिमिटेड तथा इंटरनेशनल ट्रेसेयिबिलीटी सिस्टम लिमिटेड के प्रतिनिधियों ने कहा कि प्रथम चरण में राज्य में 100 मिलियन डाॅलर के निवेश करेंगे। प्रथम चरण में हजारीबाग, रांची, रामगढ़, लोहरदगा के 5 लाख हेक्टेयर भूमि में स्थानीय किसानों की भागीदारी से गुणवत्ता के स्तर पर विश्वस्तरीय सब्जी उत्पादन शुरू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि  पूर्णतः ओर्गेनिक कृषि पर यह आधारित हो तथा अधिक से अधिक महिला और जनजातीय कृषकों को इससे जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि कृषि आधारित खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में किसानों को भी इक्विटी शेयर मिले ताकि अधिक से अधिक लाभ किसानों को मिल सके। बीन्स, गाजर, टमाटर इत्यादि पर विशेष जोर रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को तकनीक और कृषि पद्धति के आधुनिकतम तरीकों का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की वर्तमान आय को दोगुणा करना और एक बेहतर जीवन दिलाने के लिए यह कार्य किये जाएं।

निवेश करने वाली कम्पनी कृषि कार्य, कृषकों को प्रशिक्षण तथा कृषि उत्पाद पर आधारित उद्योग भी लगायेगी।

बैठक में राज्य के मुख्य सचिव श्री सुधीर त्रिपाठी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल, कृषि सचिव श्रीमती पूजा सिंघल, उद्योग निदेशक श्री के.रविकुमार, लंदन स्थित डी एम केपिटल लिमिटेड के निदेशक श्री दिलीप राव मोरे, इंटरनेशनल ट्रेसेयिबिलीटी सिस्टम लिमिटेड के डॉ एस प्रसाद पाइकरे तथा अन्य प्रतिनिधि उपस्थित थे।
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Savtribai Phule Kishori Samriddhi Yojna

must read